जांच के दावे झूठे:स्टेशन पर ऑक्सीमीटर, स्कैनर नहीं, बस स्टैंड से स्वास्थ्य कर्मचारी नदारद

हाेशंगाबाद14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर टीम जब रेलवे स्टेशन पहुंची तो टीम के पास न ऑक्सीमीटर था और न स्कैनर। - Dainik Bhaskar
भास्कर टीम जब रेलवे स्टेशन पहुंची तो टीम के पास न ऑक्सीमीटर था और न स्कैनर।
  • कोरोना के तीन नए संक्रमित मिले, जिले में अब 15 एक्टिव केस, 13 हाेम आइसाेलेट

जिले में काेराेना के केस फिर बढ़ने लगे हैं। लगातार तीसरे दिन जिले में कोरोना संक्रमित मिले हैं। शुक्रवार को मिले कोरोना के तीन मरीजों में एक 13 साल का बालक केसला का है, जो नागपुर में भर्ती है। उसकी जांच नागपुर में हुई थी वहीं भर्ती है। एक मरीज होशंगाबाद ओल्ड हाउसिंग बोर्ड और एक मरीज रसूलिया का है।

जिले में काेराेना पाॅजीटिव मरीजाें की संख्या अब 15 हाे गई है। इनमें 13 मरीज हाेम आइसाेलेट हैं। अन्य दाे मरीजाें में एक जिला अस्पताल में उपचाररत है। 13 वर्षीय बालक का इलाज नागपुर महाराष्ट्र में चल रहा है। वहीं इटारसी स्टेशन परिसर के जीआरपी थाने में एक सब इंस्पेक्टर में कोरोना के लक्षण मिलने से रेल सुरक्षा सप्ताह में शाम 4 बजे से होने वाली प्रेस कॉन्फ्रेंस रद्द कर दी गई। प्रशासन भी तीसरी लहर से सुरक्षा के लिए सख्त हो गया है, लेकिन स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही सामने आ रही है। बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग करने के आदेश हैं।

इसके बाद भी शुक्रवार को बस स्टैंड पर यात्रियाें की थर्मल स्क्रीनिंग नहीं हुई। स्टेशन पर स्क्रीनिंग टीम के पास न ऑक्सीमीटर था और न ही स्कैनर। रेलवे स्टेशन पर भी थर्मल स्क्रीनिंग शाम के समय शुरू की गई। इधर, सतरास्ते पर रात 9 बजे तक मास्क की चेकिंग होती रही। तहसीलदार शैलेंद्र बडोनिया, थाना प्रभारी संतोष सिंह चौहान नपा के कार्यपालन यंत्री आरसी शुक्ला ने टीम के साथ बिना मास्क के घूम रहे लाेगाें पर कार्रवाई की।

भास्कर लाइव

1 रेलवे स्टेशन
दाेपहर 1 बजे रेलवे स्टेशन के दाेनाें गेट पर स्वास्थ्य कर्मचारी ताे माैजूद मिले, लेकिन उनके पास यात्रियाें थर्मल स्क्रीनिंग के लिए साधन नहीं थे। उनके पास न ताे ऑक्सीमीटर था और न ही स्कैनर था। उनके पास काेराेना टेस्ट के लिए किट रखी थी। स्टेशन पर शाम 6 बजे तक किसी भी यात्री की स्क्रीनिंग नहीं की गई थी। शाम छह के बाद 4 लाेगाें की स्क्रीनिंग की थी।

2 बस स्टैंड
दाेपहर 3 बजे बस स्टैंड के दाेनाें ही गेट पर काेई भी स्वास्थ्यकर्मी नहीं मिला। यात्रियों ने न मास्क लगाया था और न साेशल डिस्टेंस था। यात्रियाें ने बताया उनकी जांच नहीं की गई। स्वास्थ्य विभाग का कर्मचारी नहीं थे। बस स्टैंड पर सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे के बीच यात्रियाें की संख्या अधिक रहती है। इस दाैरान मास्क की जांच करने वाले भी तैनात नहीं थे।

आज 130 केंद्राें पर लगेंगे टीके
जिले में शनिवार को 15+ और 18+ वालाें वैक्सीनेशन किया जाएगा। इसमें 102 हाई व हायर सेकेंड्री स्कूलों के 120 केंद्राें में 12 हजार 50 बच्चों काे कोविड 19 के डोज लगाए जाएंगे। 18+ का 10 केन्द्रों पर होगा कोविड वैक्सीनेशन, शाला त्यागी बच्चों के लिए एसएनजी स्कूल में विशेष केंद्र बनाया गया है। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. नलिनी गौड ने बताया शुक्रवार को 19 केंद्राें पर 582 नागरिकाें का कोविड वैक्सीनेशन किया गया।

1097 सैंपल भेजे

स्वास्थ्य विभाग के मीडिया प्रभारी सुनील कुमार साहू ने बताया पहले जिले में 700 से 800 मरीजाें के सैंपल लिए जा रहे थे। शुक्रवार काे जिले में 1097 काेराेना जांच के सैंपल भेजे गए।

  • स्टेशन, बस स्टैंड पर यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की मॉनिटरिंग की जाएगी। शुक्रवार को पहले दिन कर्मचारी बाहर से आए थे इसलिए उनके पास सुबह के समय साधन नहीं थे। बाद में साधन उपलब्ध करा दिए - डाॅ. प्रदीप मोजेस, सीएमएचओ
खबरें और भी हैं...