44.71 लाख की ठगी:मंदिर के फोटो दिखाकर प्लॉट के रुपए लिए, रजिस्ट्री से इंकार

हाेशंगाबाद9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मंदिर के लिए भूमिपूजन का ढोंग करता कॉलोनाइजर। - Dainik Bhaskar
मंदिर के लिए भूमिपूजन का ढोंग करता कॉलोनाइजर।

खुद काे काॅलाेनाइजर व बिल्डर बताकर शहर के एक दर्जन से अधिक लाेगाें से 4 चार साल में 44.71 लाख रुपए की ठगी करने वाले अखिलेश सक्सेना निवासी गाेल्डन सिलीकान सिटी मालाखेड़ी पर देहात थाने में केस दर्ज हुआ है। उसने ब्यावरा गांव से निटाया की ओर जाने वाली राेड पर 3 एकड़ जमीन पर काॅलाेनी काटने के सपने दिखाए। यहां बड़े से मंदिर का फोटो लगाया।

बाकायदा उसका भूमिपूजन किया। लोग झांसे में आ गए। प्लॉट के लिए अनुबंध कर सक्सेना को रुपए दे दिए। रजिस्ट्री के लिए कहने पर हर बार टाल देता है। मालाखेड़ी निवासी अमित बाेरिया ने शिकायत की। अमित समेत अन्य लोग सामने आए हैं, जिनसे सक्सेना ने 44 लाख 71 हजार रुपए ठगे हैं।

ढोंग: मंदिर के लिए भूमिपूजन भी किया

पीड़ित अमित ने बताया कि सक्सेना ने जमीन का एग्रीमेंट दिखाया। प्लॉट के लिए पहले 10 लाख रुपए लिए। सलामत खान से दाे लाख, राजकुमार निवासी बाबई से साढ़े चार लाख, नवीन बाेरिया से एक लाख, संजीव दुबे से छह लाख रुपए, खिमन गिरी गाेस्वामी से 8 लाख,कमलेश चारिया से 50 हजार, दिनेश श्रीवास्तव से दाे लाख रुपए लिए। कई लोगों से रुपए लेकर रजिस्ट्री नहीं कराई। टालता रहा और अब फरार हो गया है।

खबरें और भी हैं...