सिवनीमालवा में पुलिसकर्मी ने नपाकर्मी से की मारपीट:कर्मचारी से पुलिस जवान ने की पिटाई, पुलिस जवान के खिलाफ FIR और सस्पेंड की मांग को लेकर हड़ताल पर बैठे नपा कर्मचारी

होशंगाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नगर पालिका कर्मचारियों की हड़ताल। - Dainik Bhaskar
नगर पालिका कर्मचारियों की हड़ताल।

होशंगाबाद के सिवनी मालवा में गणेश विसर्जन की ड्यूटी से लौट रहे नगर पालिका कर्मचारी से पुलिस जवान ने मारपीट व अभ्रदता की। इसके विरोध में सोमवार को सभी कर्मचारी हड़ताल पर हैं। सभी कर्मचारी सोमवार सुबह से ही काम बंद कर धरने पर बैठ गए है।

नगर पालिका कर्मचारियों का कहना है कि मारपीट करने वाले पुलिस जवान को जब तक सस्पेंड नहीं किया जाता व उसके खिलाफ FIR नहीं होती। तब तक हड़ताल जारी रहेगी। नगर पालिका कर्मचारी संगठन और सफाई कामगार संगठन ने एसडीएम एवं एसडीओपी सौम्या अग्रवाल को कलेक्टर, प्रभारी मंत्री ने नाम ज्ञापन सौंपा है। दोनों संगठनों ने चेतावनी दी कि उस पुलिसकर्मी पर कार्रवाई नहीं होती है तो पूरे प्रदेश के कर्मचारी हड़ताल करेंगे।

जानकारी के मुताबिक नगर पालिका कर्मचारी संतोष उर्फ बबलू बाथव नगर पालिका का कर्मचारी है। बबलू ने कहा रविवार-सोमवार की रात करीब 12.45 बजे मैं गणेश विसर्जन में ड्यूटी कर लौट रहा था। सिवनी मालवा थाने में पदस्थ पुलिसकर्मी कृपाराम मीणा ने मुझे रोका और पूछताछ करते हुए अपशब्द कहे व मारपीट की। सिवनी मालवा में पूर्व में भी नगर पालिका कर्मचारियों के साथ पुलिसकर्मियों के द्वारा ड्यूटी के दौरान कई बार मारपीट की घटनाएं सामने आई हैं, जिससे सभी कर्मचारी आक्रोशित है।

कर्मचारियों का कहना है कि बच्चे के पैदा होने से लेकर मृत्य तक शव को उठाने का काम नगर पालिका कर्मचारियों के द्वारा किए जाते है। न समय देखते और न दिन। बावजूद पुलिस द्वारा कर्मचारियों के साथ अपराधियों जैसा व्यवहार किया जाता है। जिसे लेकर सोमवार को सभी कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठे है।

सीएमओ राकेश मिश्रा ने कहा नपा के ऑफिस कर्मचारी और सफाईकर्मी सुबह से हड़ताल पर है। प्रभारी मंत्री और कलेक्टर के नाम ज्ञापन एसडीएम, एसडीओपी को सौंपा है। मारपीट करने वाले पुलिसकर्मी को सस्पेंड कर एफआईआर दर्ज करने की मांग की है।

जांच कर वैधानिक कार्रवाई करेंगे

मामले में एसडीओपी सौम्या अग्रवाल ने कहा कि मुझे सुबह 11 बजे मारपीट होने की जानकारी मिली। कर्मचारी ने थाने में सुबह कोई शिकायत नहीं की। कुछ देर पहले ज्ञापन आया है। हम जांच कराएंगे। दोषी होने पर वैधानिक कार्रवाई होगी।

खबरें और भी हैं...