पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विज्ञान के लिए नवाचार:कठपुतली देगी संक्रमण से जुड़े विज्ञान की शिक्षा, 31 अक्टूबर तक चलेगी कार्यशाला

हाेशंगाबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पहले दिन ग्लब्स और रॉड पपेट सीखने पहुंचे 50 लोग

कोरोना ने समाज की व्यवस्थाओं काे बदल दिया है। ऐसे में अंधविश्वास में पड़ने की बजाय सही वैज्ञानिक साेच के साथ दैनिक जीवन में बदलाव लाना जरूरी है। इसी मकसद से पांच दिवसीय विज्ञान संचार कार्यशाला शुरू हुई।

सर्च एंड रिसर्च डेवलपमेंट साेसायटी के डॉ. अनिल सिरवैया ने बताया प्रशिक्षण से लोक संचारक तैयार किए जाएंगे जो लाेगाें को जागरूक करेंगे। पहले दिन कार्यशाला में कठपुतली (पपेट) लोक संचार शैली का परिचय दिया गया। ग्लब्स और रॉड पपेट सीखने करीब 50 शिक्षक सहित लोग पहुंचे।

आप भी ऐसे बनाएं पपेट और कहें मन की बात

गलब्स पपेट : एक गुब्बारे काे फुलाएं। पुराने अखबार की लुगदी बनाकर चेहरे की आकृति दें। इसे धूप में सुखाएं और रंगाें का उपयाेग करके मन चाहे आकार दें। चेहरे काे हैंड गलब्स के ऊपर फिक्स करें। फिर पंजे और अंगुलियाें से चलाएं।

राॅड पपेट : स्पंज या फाॅम से चेहरे की कटिंग करें। वाॅटर कलर पाेस्टर कलर और अन्य सामान का उपयाेग कर चेहरे काे आकार दें। इस चेहरे के पीछे राॅड लाएं। इस पपेट में आंख खुली रहेगी और चेहरा मुखाैटा बनकर दिखाई देगा।

विशेषज्ञ दे रहे प्रशिक्षण

  • जितेंद्र भटनागर- कठपुतली बनाने का प्रशिक्षण।
  • डाॅ. अनिल सिरवैया- स्क्रिप्ट राइटिंग।
  • डाॅ. तरुण सेन, डाॅ. माेनिका जैन- डायलाॅग डिलिवरी और अभिनय।

कब क्या सिखाएंगे

27 अक्टूबर : परिचय, उद्देश्य, कठपुतली बनाने कच्चा सामान तैयार करने की विधि।
28 अक्टूबर : कठपुतली काे आकार देना।
29 अक्टूबर : स्क्रिप्ट राइटिंग।
30 अक्टूबर : डायलाॅग और अभिनय के साथ प्रस्तुति का तरीका।
31 अक्टूबर : पपेट शाे की प्रस्तुति।

इन विषयों पर प्रशिक्षण: बालिका शिक्षा, संक्रमण और सुरक्षा, कुपोषण

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- दिन उन्नतिकारक है। आपकी प्रतिभा व योग्यता के अनुरूप आपको अपने कार्यों के उचित परिणाम प्राप्त होंगे। कामकाज व कैरियर को महत्व देंगे परंतु पहली प्राथमिकता आपकी परिवार ही रहेगी। संतान के विवाह क...

और पढ़ें