• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Hoshangabad
  • Shahganj, Going To And From Bhopal Will Go Via Bareilly, Pachmarhi, Jabalpur, Bus cars Will Pass Through Sangakheda, Do Not Put Information Boards On The Changed Route

होशंगाबाद में तवा पुल आज से बंद:भोपाल से आने-जाने वाले शाहगंज-बरेली होकर जाएं पचमढ़ी, जबलपुर; बस-कार सांगाखेड़ा होकर गुजरेंगे

होशंगाबाद7 महीने पहले

अगर आप होशंगाबाद के तवा पुल से होकर गुजरने वाले हैं तो ये जानकारी आपके लिए है। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल को हिल स्टेशन पचमढ़ी, जबलपुर, छिंदवाड़ा को जोड़ने वाले होशंगाबाद में तवा नदी का पुल आज से बंद हो गया है। तवा नदी के पुल से दो माह तक सभी प्रकार के वाहनों का आवागमन बंद रहेगा। मरम्मत कार्य पूरा होने तक होशंगाबाद-पिपरिया स्टेट हाईवे-67 पर वाहनों को डायवर्ट रूट से निकाला जाएगा। होशंगाबाद से बांद्राभान, सांगाकलां होते हुए वैकल्पिक रूट के लिए बाबई तक जा सकते हैं। यहां क्लिक कर रूट पता कर सकते हैं।

बाबई के बाद पुन: यथावत रूट मिल जाएगा। ग्रामीण रोड और सिंगल लेन होने से यहां ट्रैफिक की ज्यादा समस्या आएगी। इससे बचने के लिए बुदनी, शाहगंज, बरेली होते हुए भी जबलपुर, छिंदवाड़ा, पिपरिया पहुंच सकते हैं। इधर, तवा पुल बंद होने से रूट परिवर्तित होने के ठेकेदार और MPRDC के अधिकारियों ने जगह-जगह सूचना बोर्ड नहीं लगाए हैं। इससे कई वाहन चालक भटककर तवा पुल की ओर पहुंच रहे हैं। कुछ चापहिया वाहनों को तो रोककर बांद्राभान सांगाखेड़ा कला होते निकाला जा रहा। कुछ बाइक पुल की ओर से ही गुजर रही हैं। ऐसे में तवा पुल से सभी प्रकार के वाहनों का आवागमन पूरी तरह से बंद नहीं हुआ है।

8 माह का काम, 2 माह में करने की तैयारी
तवा नदी पर होशंगाबाद से पिपरिया होते हुए छिंदवाड़ा, नरसिंहपुर, रायसेन, जबलपुर, रायसेन को जोड़ने वाला पुल है। बड़ी संख्या में यहां से वाहन गुजरते हैं। तवा पुल की हालत काफी जर्जर है। ब्रिज की मरम्मत मेसर्स मिश्रा कंस्ट्रक्शन कंपनी भोपाल कर रही है। कंपनी इसके एक्सपेंशन जॉइंट भी बदल रही है। तवा पुल की मरम्मत कर रही कंपनी ने 8 महीने का समय मांगा था लेकिन ट्रैफिक बंद नहीं होने के कारण ठीक से काम नहीं हो पा रहा था। काम पूरा करने के लिए तवा पुल से सारे वाहनों के आवागमन पर रोक लगा दी गई है। करीब 2 माह में काम पूरा करने का लक्ष्य है। होशंगाबाद से बाबई, पिपरिया की ओर जाने वाली बसे, कार, बाइक बांद्राभान, आरी, सांगाखेड़ा कला होकर गुजरेंगी।

तवा पुल की मरम्मत का काम जारी।
तवा पुल की मरम्मत का काम जारी।

मार्ग परिवर्तित होने का सूचना बोर्ड लगाने में देरी
तवा पुल से यातायात 19 अक्टूबर से बंद होने के आदेश 16 अक्टूबर को कलेक्टर ने दिए थे। आदेश के 4 दिन बाद भी MPRDC और निर्माण कंपनी दोनों ने ही परिवर्तित मार्ग के पहले से कोई सूचना बोर्ड नहीं लगाए हैं। इससे कई वाहन चालक भ्रमित हो रहे। मंगलवार सुबह MPRDC के जीएम प्रवीण निमजे ने कहा कि भोपाल से सूचना बोर्ड मंगवाए हैं। उन्हें आज लगाएंगे। तवा पुल से आज शाम तक पूरी तरह से आवागमन बंद किया जाएगा। ट्रैफिक डीएसपी रमेश कुमार गुप्ता ने कहा सुबह से ही हमारा स्टॉफ यातायात व्यवस्था को सुधारने में लगा है। सूचना बोर्ड नहीं लगे होने से वाहन चालकों को परेशानी हो रही।

इन जगह के ग्रामीणों को नहीं बस सेवा
निमसाड़िया, जासलपुर, आचंलखेड़ा, कुठारिया, पावरखेडा खुर्द, जावली, गुराड़िया मोती के गांव के लाेगाें काे अपने निजी साधनों से आना-जाना करना हाेगा। यात्री वाहनों के मार्ग परिवर्तन से यह गांव के लाेगाें के लिए बस सेवा पुल मरम्मत तक बंद रहेगी।

चार पहिया, बसों को इस रूट से निकालेंगे

  • इटारसी-बैतूल आने-जाने वाला ट्रैफिक : पचमढ़ी, पिपरिया बाबई की ओर आने-जाने वाले चार पहिया, बसें और अन्य छोटे वाहनों को बाबई, सांगाखेड़ा, बांद्राभान, धोखेड़ा होते हुए निकल सकते है।
  • भोपाल-होशंगाबाद आने-जाने वाला ट्रैफिक : पचमढ़ी, पिपरिया बाबई की ओर आने-जाने वाले फोर-व्हीलर, बसें व अन्य छोटे वाहनों को बाबई, सांगाखेड़ा, बांद्राभान होते भोपाल, होशंगाबाद पहुंच सकते है।

भारी वाहन और ट्रक के लिए यह रूट बनाया

  • पिपरिया आने-जाने वाले भारी वाहन : पिपरिया से सांडिया, बरेली होते हुए इंदौर, भोपाल की ओर वाहन निकलेंगे।
  • सोहागपुर, बाबई आने-जाने वाले भारी वाहन: बाबई, नसीराबाद, नांदनेर, शाहगंज होते हुए ट्रक, डंपर व भारी वाहन भोपाल, इंदौर आ-जा सकेंगे।
  • सोहागपुर, बाबई से आने-जाने वाले भारी वाहन: बाबई, नसीराबाद, नांदनेर, बक्तरा, शाहगंज, बांद्राभान, दोखेड़ा होते हुए इटारसी बैतूल जाएंगे।
  • सोहागपुर, बाबई आने-जाने वाले भारी वाहन: बाबई, बक्तरा,शाहगंज, बांद्राभान होते हुए ट्रक, डंपर होशंगाबाद, भोपाल की ओर जाएंगे।

होशंगाबाद से पचमढ़ी, छिंदवाड़ा आने-जाने का मुख्य रूट; कार-बस से बांद्राभान, सांगाखेड़ा कला होते हुए जाने का विकल्प है

खबरें और भी हैं...