रामपुर थाना के पूर्व प्रभारी गुर्जर की जमानत याचिका निरस्त:दैहिक शोषण और दुराचार के आरोप में फरार है एसआई गुर्जर, बुआ के बेटे ने लगाई थी याचिका

होशंगाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एसआई राजन सिंह गुर्जर। - Dainik Bhaskar
एसआई राजन सिंह गुर्जर।

होशंगाबाद में खाकी को दागदार करने वाले रामपुर थाने के पूर्व प्रभारी एसआई राजन सिंह गुर्जर फरार चल रहे है। पिछले एक पखवाड़े से एसआई गुर्जर पुलिस गिरफ्त से दूर है। अग्रिम जमानत के लिए उनके रिश्तेदारों जुटे है, लेकिन जमानत नहीं मिल पा रही। बुधवार को भी उनकी अग्रिम जमानत याचिका निरस्त हो गई। इधर आरोपी एसआई गुर्जर को ढूंढने में भी होशंगाबाद पुलिस गंभीर नहीं है। जिससे दुराचार के आरोपी एसआई गुर्जर अब तक अपराध करने के बावजूद घूम रहे है।

बुधवार को एसआई गुर्जर के बुआ के बेटे अयोध्या बायपास रोड भोपाल निवासी युवक ने अग्रिम जमानत के लिए आवेदन किया था। तृतीय अपर सत्र न्यायधीश आरती शुक्ला ने याचिका निरस्त कर दी।

जीवन भर साथ निभाने का वादा कर एसआई ने किया दुराचार

रामपुर थाने के पूर्व प्रभारी एसआई राजन सिंह गुर्जर पर इटारसी की 38 वर्षीय विवाहित महिला का शारीरिक शोषण कर दूराचार का आरोप है। पीड़िता ने आरोप लगाया है कि एसआई राजन गुर्जर इटारसी थाने में पदस्थ थे। तब वहां मेरी मुलाकात हुई। मोबाइल नंबर लेकर एसआई गुर्जर ने वाट्सएप पर दोस्ती की। पहले अश्लील मैसेज भेजे। एतराज करने पर मुझे जीवन भर साथ रखने का वादा करने का भरोसा दिलाया। झांसे में लाकर एसआई गुर्जर ने शोषण किया। बाद में रामपुर थाना प्रभारी बनने के बाद दूरियां बना लीं। परेशान होकर पीड़िता ने महिला थाने में शिकायत की। उक्त आधार पर पुलिस ने एसआई राजन सिंह गुर्जर के खिलाफ अपराध दर्ज किया। तभी से एसआई गुर्जर फरार चल रहे है। पुलिस लाइन स्थित कमरे में ताला डला है।

होशंगाबाद में फिर खाकी दागदार:पूर्व थाना प्रभारी राजन सिंह पर दुष्कर्म का आरोप, महिला थाने में बलात्कार का केस दर्ज; 5 दिन पहले ही सस्पेंड किया था

खबरें और भी हैं...