पिपरिया में नाबालिग छात्रा ने की आत्महत्या:घर में फांसी के फंदे पर झूली 11 वीं कक्षा की छात्रा, परिवार पर प्रताड़ित करने का संदेह

होशंगाबाद6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

होशंगाबाद जिले के पिपरिया के पास एक गांव में शनिवार-रविवार की दरमियानी रात 17 वर्षीय किशोरी ने फांसी लगाकर आत्महत्या की। सूचना मिलने पर रविवार सुबह स्टेशन रोड थाना पुलिस मौके पर पहुंची। शव के पास सुसाइड नोट नहीं मिला। आत्महत्या का कारण स्पष्ट नहीं है। मृतका के परिवार के कुछ सदस्यों पर प्रताड़ित करने की जानकारी मिल रही है। पुलिस ने मर्ग कायम कर पोस्टमार्टम कराया है।

पुलिस के मुताबिक 17 वर्षीय किशोरी कक्षा 11वीं की छात्रा थी। उसके पिता की ही गांव में कास्मेटिक सामान की दुकान है। शनिवार रात को मृतका अपने कमरे में सो रही थी और उसकी मां, भाई दूसरे कमरे में सो रहे थे। रविवार तड़के 5 बजे उसकी मां नींदकर से जागकर पानी पीने व टॉयलेट के लिए कमरे से बाहर आई। मां मृतका के कमरे में भी गई। जहां किशोरी को फांसी के फंदे पर लटका देख मां जोर से चीखी।

आवाज सुन घर के दूसरे सदस्य भी उस कमरे में पहुंचे। सूचना देने के बाद स्टेशन रोड थाना टीआई निकिता विल्सन स्टाफ के साथ मौके पर पहुंची। रस्सी से बने फंदे से किशोरी का शव उतारा गया। पंचनामा कर कमरे की तलाशी ली गई। टीआई निकिता विल्सन ने बताया किशोरी ने कोई सुसाइड नोट नहीं रखा। मृतका की मां जरूर परिवार के कुछ सदस्यों पर किशोरी को प्रताड़ित करने की बात कह रही। आत्महत्या का कदम किसी प्रताड़ना से तंग आकर उठाया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट व माता-पिता के बयान लिए जाएंगे।

खबरें और भी हैं...