पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जिला अस्पताल:माॅड्यूलर ओटी में लेमिनर फ्लाे से आएगी शुद्ध हवा, इंफैक्शन का खतरा हाेगा कम

हाेशंगाबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
माॅड्यूलर ओटी - Dainik Bhaskar
माॅड्यूलर ओटी
  • 2.51 कराेड़ से बने 2 माॅड्यूलर, एक नाॅन माॅड्यूलर ऑपरेशन थियेटर स्वास्थ्य विभाग काे हैंडओवर
  • कल्चर रिपोर्ट आने के बाद अगले हफ्ते शुरू हाेने की उम्मीद

जिला अस्पताल में लेबर रूम के पीछे 2.51 कराेड़ से बने 2 माॅड्यूलर और एक नाॅन माॅड्यूलर ऑपरेशन थियेटर (ओटी) बनकर तैयार हाे गए हैं। ओटी स्वास्थ्य विभाग काे हैंडओवर हाे गए हैं। नए माॅड्यूलर ओटी में एयर (हवा) फिल्टर करने वाला लेमिनर फ्लाे लगा है, जिससे फिल्टर हाेकर शुद्ध हवा अंदर आएगी। इससे इंफैक्शन का खतरा कम कम रहेगा।

नेशनल हेल्थ मिशन (एनएचएम) की सब इंजीनियर मयूरी जैन बताया करीब 2.51 कराेड़ की लागत से 2 माॅड्यूलर ओटी और 1 नाॅन माॅड्यूलर ओटी बनाकर तैयार हाे गए हैं। इन्हें स्वास्थ्य विभाग काे हैंड ओवर कर दिया है। ओटी जल्द शुरू होगा।

तीनों ओटी में आधुनिक उपकरण| तीनाें ओटी में आधुनिक उपकरण और सुविधाएं हैं। तीनाें ओटी का निर्माण निर्माता एजेंसी नेशनल हेल्थ मिशन (एनएचएम) ने जिला अस्पताल में करवाया है।

बड़े ऑपरेशन हो सकेंगे, गर्भवती महिलाओं काे मिलेगी सुविधाएं
जिला अस्पताल में मेटरनिटी वार्ड और लेबर रूम से गर्भवती महिलाओं काे प्रसव के लिए नैदानिक केंद्र वाली बिल्डिंग में लाया जाता है। महिलाओं काे मेटरनिटी वार्ड से नैदानिक केंद्र की बिल्डिंग तक स्ट्रैचर से लाने ले जाने में जिस रास्ते का उपयाेग किया जाता है। उसमें गायनिक ओपीडी से लेकर आई-ओपीडी पड़ती है। यहां मरीजाें की भीड़ लगी रहती है। इस ओपीडी के बीचे ईटेड इमरजेंसी यूनिट के साथ बिल्डिंग में ऊपर जाने का रास्ता हाेने के कारण महिलाओं काे मेटरनिटी वार्ड से लाने ले जाते समय परेशानियाें का सामना करना पड़ता है। अब माॅड्यूलर ओटी शुरू हाेने के बाद से यह परेशानी भी गर्भवती महिलाओं के लिए खत्म हाे जाएगी। अब बड़े ऑपरेशन भी हो सकेंगे।

ओटी में यह सब नया
सेंट्रल कंट्रोल पैनल, हेपा फिल्टर, सेंसर गेट, फुट ऑपरेटर युक्त हाथ धोने की सुविधाएं, ओटी में एंटी बैक्टीरियल पेंट भी किया गया है। इसके कारण ऑपरेशन थियेटर में ऑपरेशन के दौरान मरीजों को संक्रमण होने का खतरा नहीं रहेगा।

कल्चर रिपाेर्ट आनी बाकी
तीनाें माॅड्यूलर ओटी बनकर तैयार हैं, लेकिन इनका उपयाेग शुरू करने से पहले मेडिकली अनुमति और कुछ रिपाेर्ट का आना बाकी है। ओटी शुरू करने से पहले इसकी कल्चर रिपाेर्ट आती है। इसके बाद ओटी शुरू हाे सकेंगे।

ओटी हैंडओवर हाे गए
जिला अस्पताल में बने ऑपरेशन थियेटर निर्माण कंपनी द्वारा हैंड ओवर कर दिए गए हैं। मेडिकली रिपाेर्ट आने के बाद जल्द ही इन्हें शुरू कर दिया जाएगा। नए ओटी से मरीजाें काे इंफैक्शन का खतरा कम हाेगा।
डाॅ. दिनेश दहलवार, सिविल सर्जन

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी सकारात्मक और संतुलित सोच द्वारा कुछ समय से चल रही परेशानियों का हल निकलेगा। आप एक नई ऊर्जा के साथ अपने कार्यों के प्रति ध्यान केंद्रित कर पाएंगे। अगर किसी कोर्ट केस संबंधी कार्यवाही चल र...

    और पढ़ें