फैसला:युवक को गुप्ती मारने वाले को 3 साल कैद, शराब के लिए रुपए नहीं देने पर की थी अड़ीबाजी

होशंगाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

इटारसी कोर्ट ने ईडब्ल्यूएस न्यास कॉलोनी निवासी सागर पिता महेंद्र तिवारी (24) को शराब पीने के लिए रुपए की मांग करने और गुप्ती से चोट पहुंचाने पर 3 साल के कारावास की सजा सुनाई है। अपर लोक अभियोजक राजीव शुक्ला ने बताया अंशुल पटेल ने इटारसी थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी दिसंबर 2015 को गौरव द्विवेदी की बारात में न्यास कॉलोनी में था। साईं बाबा मंदिर के पास सागर तिवारी ने उसे रोका। उसके साथी आकाश चौधरी और संदीप मेहरा भी मौजूद थे।

सागर तिवारी ने शराब पीने के लिए रुपए मांगे। रुपए नहीं देने पर अंशुल के पेट में गुप्ती मार दी। गुप्ती बायीं पसली से पेट में घुस गई। सागर तिवारी को उसके दोनों साथी पकड़ने लगे तो उन्हें जान से मारने की धमकी देता हुआ भाग गया। पुलिस ने केस दर्ज किया। कोर्ट में एजीपी राजीव शुक्ला एवं भूरेसिंह भदौरिया ने 9 साक्ष्यों का परीक्षण कराया। कोर्ट ने 3 साल की सजा और अर्थदंड से दंडित किया है। आरोपी सागर तिवारी पूर्व से जमानत पर है इसलिए उसे एक महीने की अंतरिम जमानत अपील करने के लिए न्यायालय ने दी है।

खबरें और भी हैं...