• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Hoshangabad
  • The Sacked SI Of Hoshangabad Used To Demand Money From The People By Making An FIR, Video Against Four Policemen And A Woman

ब्लैकमेलिंग मामले में 4 पुलिसकर्मियों पर FIR:होशंगाबाद में महिला से मिलकर लोगों को हनीट्रैप में फंसाते थे, फिर धमकी देकर करते थे वसूली; पुलिस अफसर समेत चारों को किया गया था बर्खास्त

होशंगाबाद4 महीने पहले

होशंगाबाद जिले के चर्चित हनीट्रैप गैंग मामले में शामिल पुलिस से बर्खास्त किए गए सब इंस्पेक्टर जय नलवाया सहित 4 पुलिसकर्मी और एक महिला के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। एसआई, लेडी हेड कांस्टेबल ज्योति मांझी, कांस्टेबल मनोज वर्मा, कांस्टेबल ताराचंद जाटव और महिला सुनीता ठाकुर के खिलाफ अपराधिक षड्यंत्र, धमकी देकर ब्लैकमेलिंग करने के आरोप में केस दर्ज हुआ।

शहर के कोतवाली थाने तैनात रहने के दौरान सब इंस्पेक्टर जय नलवाया, महिला प्रधानआरक्षक ज्योति मांझी, आरक्षक मनोज वर्मा, एसडीओपी कार्यालय के आरक्षक ताराचंद जाटव ने सुनीता ठाकुर के साथ मिलकर कुछ लोगों को हनीट्रैप में फंसाया था। इसके बाद ब्लैकमेल कर रुपए मांगते थे। शिकायत के बाद एसआई नलवाया को DIG जेएस राजपूत ने एक जुलाई को बर्खास्त किया। एसपी संतोष सिंह गौर ने महिला प्रधानआरक्षक ज्योति मांझी, ताराचंद जाटव व मनोज वर्मा को बर्खास्त कर चुके हैं। बर्खास्त होने के करीब 40 दिन बाद खाकी पर दाग लगाने वाले चारों पुलिसकर्मी और महिला के खिलाफ मंगलवार रात 11.02 बजे केस दर्ज किया गया।

ब्लैकमेल कर हनीट्रैप मामले में वर्दी छीनी:होशंगाबाद कोतवाली का सब इंस्पेक्टर जय नलवाया बर्खास्त, डीआईजी ने की कार्रवाई; तीन पुलिसकर्मी तीन दिन पहले हो चुके बर्खास्त

बर्खास्ती पर हाईकोर्ट की रोक
ब्लैकमेलिंग के मामले में बर्खास्त एसआई जय नलवाया को स्टे मिला है। एसआई नलवाया की बर्खास्ती के आदेश पर मप्र हाईकोर्ट की जस्टिस नंदिता दुबे की एकल पीठ ने रोक लगा दी है। एकल पीठ ने गृह विभाग, डीजीपी और डीआईजी होशंगाबाद को नोटिस जारी कर 10 दिन में जवाब मांगा है। इसके अलावा महिला प्रधानआरक्षक ज्योति मांझी, आरक्षक ताराचंद जाटव और मनोज वर्मा ने भी स्टे ले आए हैं। हालांकि, तीनों के स्टे की अधिकृत पुष्टि नहीं हुई है।

खबरें और भी हैं...