• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Hoshangabad
  • There Were Deaths In The Family, Some Fell Ill, It Was Suspected To Be Due To The Witchcraft Of The Couple, So 2 Brothers Killed 3 Relatives

पिपरिया खुर्द में पति-पत्नी के कत्ल का खुलासा:परिवार में मौतें हुईं, कुछ बीमार पड़े, दंपती के जादू-टोने से ऐसा होने का शक था, इसलिए 2 सगे भाइयों ने 3 रिश्तेदारों के साथ कर दी हत्या

हाेशंगाबाद/इटारसी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दोहरे हत्याकांड के पांच आरोपियों को कोर्ट ले जाती पुलिस। - Dainik Bhaskar
दोहरे हत्याकांड के पांच आरोपियों को कोर्ट ले जाती पुलिस।
  • केसला पुलिस ने सेमलपुरा के जंगल से 5 आरोपियों को किया गिफ्तार, हत्या के साथ बलवा और आर्म्स एक्ट का केस भी लगाया, ज्यूडिशियल रिमांड पर भेजा

जादू-टोने के शक में आदिवासी बुजुर्ग दंपती की हत्या करने वाले गांव के ही 5 युवक निकले। इनमें दो सगे भाई हैं। पुलिस ने इनके पास से हत्या में उपयोग तलवार, कुल्हाड़ी, लोहे का नुकीला व धारदार सरिया, बांस के टुकड़े सहित वारदात के समय पहने कपड़े बरामद कर लिए हैं। इन युवकों ने हत्या का कारण यह बताया कि पन्नालाल और कस्तूरीबाई जादू-टोना करते थे, जिससे हमारे परिवार के कुछ सदस्य मर गए और कुछ बीमार हैं। पांचों आरोपी मंगलवार को इटारसी कोर्ट में लाए गए जहां से उन्हें ज्यूडिशियल रिमांड पर होशंगाबाद जिला जेल भेज दिया गया है। यह दोहरा हत्याकांड इटारसी से 55 किमी दूर केसला के पिपरिया खुर्द गांव में हुआ था। 24 सितंबर को केसला थाने में मर्डर केस दर्ज हुआ।

3 दिन बाद पुलिस में संदेह के घेरे में आए गांव के 5 युवकों को सेमलपुरा के जंगल में घेराबंदी करके पकड़ा। आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। सभी आपस में रिश्तेदार हैं। इनका पिछला आपराधिक रिकॉर्ड पुलिस को नहीं मिला है।

ये हैं दोहरे हत्याकांड के 5 आरोपी

  • करण सिंह पिता बुधसिंह लाविस्कर (20)
  • भैयालाल पिता खुशीलाल लाविस्कार (45)
  • बबलू उर्फ बलवान उर्फ बलवंत सिंह पिता सुप्यार सिंह लाविस्कर (20)
  • पूनम सिंह पिता अमरलाल लाविस्कर (20)
  • . आनंद पिता बुधसिंह लाविस्कर (37)

ऐसे की रात में वारदात : पन्नालाल कलमे (62) और कस्तूरी बाई कलमे (55) घर में अकेले थे। उनका बेटा-बहू मेहमानी में गए थे। गांव में ही 23 सितंबर की रात लगभग 8 बजे इन आरोपियों ने बैठकर शराब पी। आपस में बात करते हुए कहा कि कलमे ने हमारे परिवार को जादू-टोने से बर्बाद कर दिया है आज उनको निपटा देते हैं। आरोपी रात 10.30 बजे अपने-अपने घर से तलवार, कुल्हाड़ी, सरिया लेकर कलमे के घर पहुंच गए और बुजुर्ग आदिवासी दंपती पर हमला कर दिया। उन्होंने 25-30 मिनट में घटना को अंजाम दिया और भाग गए। इनका घर गांव के आखिरी कोने पर होने के कारण गांव वालों को घटना का पता नहीं चला।

भास्कर ने पहले ही बता दिया था जादू-टोने के शक में हुई हत्या : वारदात के 17 घंटे बाद जब बेटे बहू 24 सितंबर को शाम 4 बजे घर आए तो घटना का पता चला। पन्नालाल की गर्दन और कस्तूरी बाई के सिर पर धारदार हथियार से वार किया गया था। भास्कर ने यह खुलासा किया था कि दंपती की हत्या जादू-टोने की आशंका में की गई है।

अंधे कत्ल का सुराग लगाने वाली टीम : ट्रेनी डीएसपी विमलेश उइके, एएसआई भोजराज बरबड़े, रामनाथ खंडागरे, हेड कांस्टेबल पूनमचंद चौधरी, कांस्टेबल मनोज डोंगरे, बबलू बटके, विजय अखंडे, महेश गोहे, महेश साहू, ड्राइवर आरक्षक टिल्लू उइके। टीम एसपी गुरकरन सिंह, एएसपी अवधेश प्रताप सिंह, एसडीओपी महेंद्र मालवीय के निर्देशन किया।

खबरें और भी हैं...