होशंगाबाद में आदिवासी बुजुर्ग दंपती की हत्या:पति का आंगन और पत्नी की घर के पीछे मिला शव, धारदार हथियार से मारकर ली जान; दोनों घर पर अकेले थे

होशंगाबादएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
आंगन में पड़ा बुजुर्ग का शव। - Dainik Bhaskar
आंगन में पड़ा बुजुर्ग का शव।

होशंगाबाद जिले के केसला से 40 किमी दूर पिपरिया खुर्द में दोहरे हत्याकांड का मामला सामने आया है। आदिवासी बुजुर्ग दंपती की अज्ञात लोगों ने धारदार हथियार से हमला कर मौत के घाट उतारा दिया। बुजुर्ग पति का शव आंगन और पत्नी का शव घर के पीछे पड़ा था। शुक्रवार शाम को बेटे-बहू के रिश्तेदारी से लौटकर घर आने पर घटना की जानकारी मिली। खबर लगते ही गांव में सनसनी फैल गई।

सूचना केसला थाना प्रभारी प्रशिक्षु DSP विमलेश उइके स्टॉफ के साथ मौके पर पहुंचे। रात 9.30 बजे SP डॉ. गुरकरन सिंह, SDOP एमके मालवीय भी घटनास्थल पहुंचे। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया। देर रात हरदा से फॉरेंसिक साइंस लैब (FSL) अधिकारी पिपरिया खुर्द पहुंचे। पुलिस के मुताबिक पन्नालाल पुत्र विशन कलमे (60) और उसकी पत्नी कस्तूरी बाई के शव शुक्रवार शाम को घर आंगन और पीछे मिले हैं। मृतक का बेटा रायसिंह अपनी पत्नी सीमा बाई के साथ साढू भाई के घर मुंडन कार्यक्रम में शामिल होने गुरुवार को शाहपुर के हांडीपानी गांव गया था। घर पर माता-पिता अकेले थे।

बुजुर्ग महिला का पड़ा शव।
बुजुर्ग महिला का पड़ा शव।

शुक्रवार शाम 4 बजे वापस गांव आया तो पिता आंगन में मृत अवस्था में और मां घर के पीछे मृत अवस्था में पड़े मिले। दोनों के गले और सिर पर चोट के निशान है। उसने गांव में आस-पड़ोस में यह जानकारी दी। सूचना मिलने पर केसला थाने से पुलिस मौके पर पहुंची। घटनास्थल का मुआयना किया। FSL टीम द्वारा साक्ष्य जुटाने के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए इटारसी भेजा गया है। शनिवार सुबह शव का पोस्टमार्टम होगा।

घटना के बारे में पड़ोसियों ने साधी चुप्पी, पुलिस का शक बढ़ा
SP डॉ. गुरकरन सिंह ने बताया दोहरे हत्याकांड होने के बारे में रात को पड़ोसियों से मौखिक जानकारी ली गई। किसी ने भी यह घटनाक्रम के बारे में कुछ नहीं कहा। बुजुर्ग दंपती को शव रात से सुबह तक घर के बाहर पड़े रहे। उस पर भी किसी की नजर नहीं गई। मोहल्ले में एक-दो परिवार से पुराने विवाद की जानकारी मिली है। घटना में मोहल्ले के लोगों पर शंका है। पड़ताल की जा रही है।

खबरें और भी हैं...