पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

घर में साड़ियों से 3 जगह बनाए फंदे:शादी की शेरवानी पहनकर फांसी पर झूला युवक

सारनी19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

शोभापुर कॉलोनी के जैरी चौक पर रहने वाले मोंटू उर्फ मोहन चौधरी का शव रविवार को घर में फांसी पर लटका मिला। वह घर में अकेला था। पिता भोपाल गए थे। मृतक 5 बहनों का इकलौता भाई था। विवाद के कारण मृतक की पत्नी बेटी के साथ भोपाल में रहती थी।

पत्नी के चले जाने से वह दुखी था। घर से कपड़े बेचने का काम करता था। पाथाखेड़ा चौकी प्रभारी राकेश सरियाम के मुताबिक मोंटू ने घर में आत्महत्या की। शनिवार को वह घर में अकेला था। फांसी लगाने के लिए उसने किचिन में दो और बाहर के कमरे में साड़ी का 1 फंदा बनाया।

शादी की शेरवानी पहनी और कमरे में बने साड़ी के फंदे पर झूल गया। रविवार सुबह चाचा मदन चौधरी ने उसे सबसे पहले फांसी पर लटका देखा। पुलिस को सूचना दी।

दुख: पत्नी अलग रहती है...
मोंटी की शादी सात साल पहले हुई थी। लगातार झगड़े होने के कारण पत्नी 4 साल से बच्ची के साथ भोपाल में रहती रह रही है। पत्नी के घर छोड़कर जाने के बाद से वह दुखी रहने लगा।

अक्सर कहता था-पत्नी, बच्ची को वापस ला दो
मोंटी ने शनिवार रात 2 बजे पिता पिता राजेंद्र चौधरी को कॉल किया और भोपाल से बहन को साथ लाने की बात कही थी। इसके अलावा मोंटी ने तड़के करीब 4 बजे तीसरे नंबर की बहन को कॉल कर जीजा के हालचाल पूछे। इसके बाद उसने फांसी लगा ली। पिता राजेंद्र ने बताया मोंटी अक्सर कहता था, पत्नी, बच्ची को वापस ला दो या दूसरी शादी करा दो।

नहीं मिला सुसाइड नोट
पुलिस ने मृतक के माता-पिता के आने के बाद शव को फंदे से उतारा। पाथाखेड़ा चौकी प्रभारी राकेश सरियाम ने बताया मौके से सुसाइड नोट नहीं मिला है। एफएसएल टीम ने मौके का मुआयना किया। पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की सही जानकारी मिल पाएगी। पुलिस पहुंची तो घर में पाइप और पंखे पर तीन जगह साड़ी के फंदे लगाए थे। सामान और अलमारी के कपड़े बिखरे थे।

खबरें और भी हैं...