सिवनी कलेक्टर को अंधा बोलने वाले एसडीओ पर गिरी गाज:जबलपुर कमिश्नर ने किया सस्पेंड, किसान से बातचीत का आडियो हुआ था वायरल

सिवनी8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सिवनी कलेक्टर को अंधा बोलने वाले जल संसाधन विभाग के एसडीओ श्रीराम बघेल पर निलंबन की गाज गिर गई है। जबलपुर कमिश्नर बी. चंद्रशेखर ने उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। कमिश्नर ने मामले की विस्तृत जांच कराने का उल्लेख भी अपने आदेश में किया है। सिवनी के कान्हीवाड़ा के एसडीओ श्रीराम बघेल का पिछले माह 17 दिसंबर को किसान से बातचीत का आडियो वायरल हुआ था। जिसके बाद सिवनी कलेक्टर डॉ. राहुल हरिदास फटिंग ने निलंबन की कार्रवाई प्रस्तावित की थी।

इस मामले में जबलपुर कमिश्नर ने 21 दिसंबर को कारण बताओ नोटिस जारी कर एसडीओ से जवाब तलब किया था। शासकीय पद पर रहते हुए शासकीय कार्य में लापरवाही बरतते हुए कलेक्टर के विरूद्ध अनर्गल एवं अपमानजनक भाषा के प्रयोग किए जाने, अपने क्षेत्र के किसान की समस्या के समाधान के बदले अपनी अन्य चुनाव ड्यूटी का कारण बताते हुए कलेक्टर को ही अशोभनीय टिप्पणी किए जाने को गंभीर कदाचरण की श्रेणी का मानते हुए 13 जनवरी को निलंबन आदेश जारी किया गया है।

मोबाइल पर हुई बातचीत

पिछले माह 15 दिसंबर को हुई बातचीत का ऑडियो 17 दिसंबर को वायरल हुआ। ऑडियो में पलारी गांव के किसान विजय साहू ने खेत में पानी न आने की समस्या की जानकारी एसडीओ बघेल को दी थी, जिसके प्रति उत्तर में एसडीओ बघेल ने यह कहा था कि वे चुनाव में व्यस्त हैं, उन्हें अभी फोन नहीं लगाया जाए। कलेक्टर को फोन लगाए जिसने ड्यूटी लगा दिया है, उसकी आंख में नहीं दिख रहा है। कलेक्टर अंधा है तो अब हम क्या करें, जब हम हैं ही नहीं तो तुम्हारी कौन सुनेगा। आपका फोन बार-बार आ रहा है। तुम कलेक्टर को फोन करो।