पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

खिलाड़ियाें से खिलवाड़:खेल मैदान नहीं, सालाें से की जा रही मांग पर नहीं दे रहे ध्यान, प्रैक्टिस करने को माेहताज खिलाड़ी

टिमरनीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले की खिरकिया, टिमरनी, हंडिया तहसील मुख्यालय पर नहीं हैं खेल मैदान, खिलाड़ी हाे रहे परेशान

ब्लाॅक मुख्यालय पर सुविधायुक्त खेल मैदान की मांग सालाें से की जा रही है। खिलाड़ियाें और जागरूक नागरिकाें ने शासन और प्रशासन से कई बार मांग भी की, लेकिन हर बार आश्वासन ही मिला। शहर में क्रिकेट, कबड्डी, कराते, वालीबाॅल, फुटबाॅल सहित अन्य खेलाें का अभ्यास करने वाले खिलाड़ी परेशान हैं। कई खिलाड़ियों ने राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपने खेल का प्रदर्शन कर नगर का नाम रोशन किया है। मैदान की सुविधा नहीं हाेने से खिलाड़ी मायूस हैं।

खिलाड़ी कभी कृषि उपज मंडी परिसर ताे कभी गली-माेहल्लाें की सड़काें पर खेलते दिख रहे हैं। वरिष्ठ नागरिक विनायक गद्रे, शीतल जैन, पंकज तिवारी अादि का कहना है कि मैदान की कमी उनके समय से बनी हुई है। आज भी खिलाड़ी इस सुविधा काे तरस रहे हैं। सीएमओ राहुल शर्मा ने बताया खेल मैदान के लिए जमीन आवंटित करने एसडीएम को पत्र लिखा है। शहर में व्यवस्थित खेल मैदान बने इसके लिए प्रयासरत हैं।

कई बार उठ चुकी मांग
शहर में मैदान काे लेकर खिलाड़ियाें व जनहित संघर्ष समिति के युवाओं सहित जागरूक नागरिकों ने खेल मैदान की मांग की है। विधायक संजय शाह भी प्रयास कर रहे हैं, लेकिन समय लग रहा है। भाजपा के डाॅ. राजेंद्र शर्मा का कहना है कि शहर में 3.47 एकड़ लीज की जमीन काे मैदान के लिए देने की मांग समिति व अन्य लाेगाें ने की है। कई बार ज्ञापन भी दिए हैं।

खबरें और भी हैं...