पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

इलाके में दहशत:चोरों के निशाने पर बरझर, 3 दिन में दूसरी वारदात, सेंध लगाकर कट्‌टे की नोक पर व्यापारी को लूटा

आलीराजपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
वारदात की सूचना मिलने के बाद करीम के घर के बाहर लाेगाें की भीड़ लग गई। - Dainik Bhaskar
वारदात की सूचना मिलने के बाद करीम के घर के बाहर लाेगाें की भीड़ लग गई।
  • महेंद्रा रोड स्थित सोसायटी के सामने रहने वाले व्यापारी को बनाया निशाना, पुलिस के हाथ एक भी बदमाश नहीं लगा

गुजरात बॉर्डर पर स्थित चंद्रशेखर आजाद नगर क्षेत्र का बरझर चोरों के निशाने पर है। लगातार यहां वारदातें हो रही है और पुलिस अब तक किसी भी वारदात के एक भी आरोपी को पकड़ नहीं पाई। लिहाजा 3 दिनों के अंदर ही बदमाशों ने दूसरी चोरी को अंजाम देकर पुलिस को चुनौती दे दी है।

अब बदमाशों ने एक व्यापारी के यहां घुसकर कट्‌टे की नौक पर वारदात को अंजाम दिया। वारदात शनिवार रात करीब 1.30 बजे की है। गांव में महेंद्रा रोड स्थित सोसायटी के सामने रहने वाले करीम खान घर में ही छोटी सी फुटकर की दुकान संचालित करते हैं।

बदमाशों ने रात के अंधरे में घर के पीछे वाले दरवाजे के समीप सेंध लगाई और हाथ डालकर दरवाजा खोलकर अंदर घुस गए। खटपट की आवाज सुनकर करीम की नींद खुली तो पूरे घर में अंधेरा था। दो से तीन लोग हाथ में टॉर्च की रोशनी लिए दिखाई दिए।

वे कुछ कर पाते इससे पहले ही बदमाशों ने करीम और उसकी पत्नी को कट्‌टे की नौक पर चुप करा दिया। धमकी दी कि शोर मचाया तो गोली मार देंगे। इसके बाद चोरों ने पूरे घर की तलाशी ली। बदमाशों ने यहां से 7 हजार रुपए चुराए, इसके बाद घर में रखी दो गुल्लक तोड़ी।

जिसमें करीब 18 हजार रुपए थे। करीम ने बताया करीब तीन बदमाश घर में थे। रुपए चोरी करने के बाद वे भाग निकले। इसके बाद करीम ने अपने रिश्तेदारों और आसपास के लोगों को सूचना दी। वे आए तब तक चोर भाग निकले थे। सूचना मिलने पर रविवार सुबह पुलिस पहुंची और जांच की। बरझर चौकी में धारा 457, 380 में प्रकरण दर्ज किया गया है।

पुलिस का गश्त वाहन निकला तो कंबल से हमारा मुंह दबा दिया: खान

जिस वक्त बदमाश घर में घुसकर वारदात को अंजाम दे रहे थे, तभी रात्रि गश्त पर पुलिस का वाहन निकला। करीम ने बताया मैंने वाहन की आवाज सुनकर शोर मचाने का प्रयास किया, लेकिन इससे पहले ही बदमाशों ने मेरे मुंह पर कंबल डाल दिया।

चोर करीम का पर्स भी ले गए। जिसमें एटीएम कार्ड, आधार कार्ड, एक सिम भी थी। कुछ देर में पुलिस का गश्त वाहन वहां से निकला तो चोरों ने कंबल से करीम और उसकी पत्नी का मुंह दबा दिया ताकि वह शोर ना मचा सके। चोरी के बाद बदमाश घर के पीछे से खेत में होते हुए भाग निकले।

गांव में कब-कब हुई चोरियां

  • 31 जुलाई को कालिका माता मंदिर बरझर कस्बा में चोर घुस गए थे। और यहां से गल्ले तोड़कर नकदी ले गए थे।
  • एक अगस्त को कालिया पिता पीदिया मावी के यहां सेंध लगाकर घुसे थे। चोरों ने कुल्हाड़ी गर्दन पर रखकर 70 हजार रुपए नकदी और जेवरात चुरा लिए थे।
  • 9 सितंबर को गांव से लगे बड़गांव माली फलिया में इरशाद खान के घर में घुसकर 2 लाख के जेवर व डेढ़ लाख रु. चुरा ले गए थे।

गुजरात बॉर्डर नजदीक, इसी का फायदा उठाते हैं बदमाश
आलीराजपुर जिले में चोरी और लूट के मामले में बरझर क्षेत्र चोरों के निशान पर ही रहता है। खासकर बारिश के मौसम में यहां वारदातें होती रहती है। बरझर से मात्र एक किलोमीटर दूर गुजरात राज्य की बॉर्डर लगती है। यहीं से दाहोद जिले की सीमा भी शुरू होती है।

इसका पूरा फायदा बदमाश उठाते है। सीमा पार से आकर बदमाश चोरी की वारदात को अंजाम देने के बाद भाग निकलते हैं। चूंकि बदमाश दूसरे जिलों से आकर वारदात को अंजाम देते हैं इसलिए पुलिस भी इन तक नहीं पहुंच पाती।

पूर्व पुलिस अधीक्षक विपुल श्रीवास्तव व कार्तिकेयन के समय पुलिस की टीम गठित कर दाहोद जिले के धानपुर थाना क्षेत्र के कुछ गांवों पहुंची थी। पुलिस ने दबिश भी दी लेकिन बदमाश इसके पहले ही यहां से भाग निकले थे। चौकी पर कम पुलिस बल भी वारदातों को नहीं रोक पाता। वर्तमान में बरझर चौकी में चौकी प्रभारी, दो सब इंसपेक्टर और चार जवान पदस्थ है।

खबरें और भी हैं...