पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

प्रवचन:पुण्य करना कोई नहीं चाहता पर पुण्य का फल हर कोई चाहता है

बदनावरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • परंतु यह बात शाश्वत सत्य है कि हम जैसा कर्म करेंगे वैसा ही उसका फल प्राप्त होगा
  • कुंदकुंद सभागृह में मुनि प्रगल्भसागरजी ने प्रवचन में कहा

इस संसार में हर कोई प्राणी पुण्य कार्य को करना नहीं चाहता परंतु पुण्य का फल जरूर चाहता है। उसी प्रकार हर प्राणी पाप कार्य का फल भोगना तो नहीं चाहता परंतु पाप कार्य में सदा लिप्त रहता है। परंतु यह बात शाश्वत सत्य है कि हम जैसा कर्म करेंगे वैसा ही उसका फल प्राप्त होगा। कहा भी गया है कि बोये बीज बबूल के तो आम कहां से होय। यह बात कुंदकुंद सभागृह में चातुर्मास के लिए विराजित मुनि प्रगल्भसागरजी ने 1000 वर्ष पूर्व लिखे गए आत्मा अनुशासन ग्रंथ के हवाले से जिन सहस्त्रनाम ग्रंथ की वाचना के दौरान कही। मुनि ने आगे कहा ज्ञानी व्यक्ति या सत्पुरुष वही है जो पाप कार्य, चर्चा में लिप्त व्यक्ति को धर्म कार्य या चर्चा की ओर मोड़ दे। उन्हें आत्म साधना के मार्ग की ओर चलायमान कर दे। जानकारी दिगंबर जैन समाज के सचिव ओम पाटोदी ने दी।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें