युद्धस्तर पर चल रहा काम:इंडस्ट्रियल क्षेत्र में 200 बेड का काेविड केयर सेंटर चार दिन में बनकर हाे जाएगा तैयार

देवास6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
200 बेड का काेविड केयर सेंटर का काम तेजी से चल रहा है। - Dainik Bhaskar
200 बेड का काेविड केयर सेंटर का काम तेजी से चल रहा है।
  • 60 बेड को जोड़ा गया है ऑक्सीजन लाइन से, सड़काें और स्ट्रीट लाइट भी की गई दुरुस्त

जिला प्रशासन, नगर निगम, रेडक्रास, इप्का लैब लिमिटेड कंपनी के संयुक्त प्रयास से औद्याेगिक क्षेत्र क्रमांक एक में काेविड केयर सेंटर तैयार किया जा रहा है, जिसका काम युद्धस्तर पर चल रहा है। बताया जा रहा है कि चार दिन में यह सेंटर बनकर तैयार हाे जाएगा।

यहां काेविड के संदिग्ध और पाॅजिटिव मरीजाें काे भर्ती किया जा सकेगा। 200 बेड के इस काेविड केयर सेंटर में 60 बेड स्पेशल तैयार किए गए हैं, जिनमें ऑक्सीजन लाइन बिछाई गई है। इंडस्ट्रीज एसाेसिएशन के अध्यक्ष अशाेक खण्डेलिया ने बताया कि काेविड केयर सेंटर इप्का लैब के एक शेड में तैयार किया जा रहा है, चूंकि इस हिस्से में एकदम से शेड तैयार करना बड़ी चुनाैती थी

सड़कें उखड़ी हुई थीं, स्ट्रीट लाइट खराब थी। पूरा प्रशासन लगा हुआ है, कंपनी के लाेग लगे हुए है, हर स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं कि काेविड केयर सेंटर जल्दी बनकर तैयार हाे। फिलहाल स्थिति यह है कि यहां लाेग 16-16 घंटे काम कर रहे हैं, सभी लाेग लगे हुए हैं। मरीजाें के लिहाज से तमाम तरह की सुविधाएं जुटाई जा रही हैं, ताकि उन्हें किसी प्रकार की परेशानी न हाे।

ऑक्सीजन प्लांट भी लगेगा
बता दें कि इस काेविड केयर सेंटर पर एक ऑक्सीजन प्लांट भी लगेगा, जिसकाे लेकर भी लगातार काम किया जा रहा है। यहां ऑक्सीजन प्लांट लगने से ऑक्सीजन की आपूर्ति में कुछ राहत की स्थिति बनेगी। जानकारों के मुताबिक आने वाले 5 से 6 दिन में यह प्लांट भी तैयार हाे सकता है। कलेक्टर चंद्रमाैली शुक्ला द्वारा इस मामले में पूरी माॅनीटरिंग की जा रही है।
स्टाफ की भी हाेगी नियुक्ति
काेविड केयर सेंटर पर डाॅक्टर, पैरामेडिकल स्टाॅफ और मैनेजमेंट के लिए भी तमाम तरह की तैयारियां की जा रही है। रेडक्राॅस का भी इसमें विशेष सहयाेग रहेगा। वहीं, जरूरत पड़ने पर नई नियुक्तियां भी की जाएंगी।
एक और काेविड केयर सेंटर बन सकता है

यह काेविड केयर सेंटर बनने के बाद भी यदि जरूरत पड़ी ताे राधा स्वामी सत्संग हाल काे भी काेविड केयर सेंटर के ताैर पर तैयार किया जा सकता है। पिछले दिनाें यहां भी काेविड सेंटर भविष्य में तैयार हो सके, इसे लेकर कलेक्टर शुक्ला और नगर निगम आयुक्त विशाल सिंह चाैहान निरीक्षण कर चुके हैं।

खबरें और भी हैं...