पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राेज जांच के लिए ओपीडी में पहुंच रहे 200 बच्चे:24 घंटे में 54 बच्चे एमजीएच में भर्ती, सभी की काेराेना रिपाेर्ट निगेटिव

देवास9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
एमजीएच के शिशु वार्ड में भर्ती बच्चे। - Dainik Bhaskar
एमजीएच के शिशु वार्ड में भर्ती बच्चे।
  • 15 दिन में सर्दी-खांसी, वायरल के मरीजाें की संख्या बढ़ी,

जिला अस्पताल में एकदम से मरीजाें की संख्या में इजाफा हुआ है। खासकर शिशु वार्ड में बच्चाें की संख्या एक दिन में बढ़कर 80 पहुंच गई है। एकदिन पहले शनिवार काे वार्ड में 26 बच्चे भर्ती थे, रविवार काे 54 बच्चे और भर्ती हुए। ज्यादातर बच्चाें काे सर्दी, खांसी, वायरल फीवर और सांस लेने में दिक्कत बनी हुई है। एहतियात के ताैर पर सभी बच्चाें की काेराेना जांच की जा रही है, हालांकि अभी तक सभी बच्चाे की रिपाेर्ट निगेटिव आई है।

वर्तमान में कुछ दिनों से बारिश नहीं होने से गर्मी उमस बढ़ गई, जिसके चलते निजी एवं शासकीय अस्पताल में हर उम्र के मरीजों की भीड़ बढ़ रही है। शासकीय हो या निजी पैथोलॉजी हर जगह लोगों को अपनी रिपोर्ट आने का घंटों इंतजार करना पड़ रहा है। एमजीएच में 600 से 800 मरीज उपचार कराने रोज पहुंच रहे हैं, जिसमें महिला-पुरुष, बुजुर्ग, बच्चे भी शामिल हैं। बच्चों की संख्या 100 से 200 पहुंच जाती है।

दाे से तीन दिन तक करना पड़ रहा भर्ती

ओपीडी काउंटर से मिली जानकारी के अनुसार वर्तमान में सबसे ज्यादा पंजीयन सर्दी, जुखाम, बुखार और खांसी के मरीज के आ रहे हैं। जिसमें कुछ इतने गंभीर मरीज आ रहे हैं कि उनको दो से तीन दिन भर्ती भी करना पड़ रहा है।

माैसम अनुकूल नहीं, बरतें सावधानी
एमजीएच के डाक्टर शरद वीरपरा ने बताया वर्तमान में मौसम अनुकूल नहीं है। इसमें सबसे ज्यादा बीमार लोग दूषित पानी पीने और बाजार की खुली चीजें खाने से हो रहे हैं। लोग अभी सिर्फ घर का बना भोजन खाएं, बाज़ार में खाने से बचें कटे हुए जो देर से रखें हुए फल न खाएं। फ्रिज की रखी चीजों से बचें, ज्यादा ठंडा गर्म खाने से बचें, विशेष कर बच्चों का ध्यान रखें, संभव हो पूरा परिवार उबला पानी पीएं।

एमजीएच में ओपीडी की स्थिति - बच्चाें की संख्या

खबरें और भी हैं...