4 नए मरीज / 9 साल की बच्ची, 13 साल का बच्चा, दूध वाले की पत्नी और सिविल इंजीनियर संक्रमित मिले

9-year-old girl, 13-year-old child, milkman's wife and civil engineer found infected
X
9-year-old girl, 13-year-old child, milkman's wife and civil engineer found infected

  • जिले में काेराेना मरीजाें की संख्या 76 हुई, अब तक 8 की माैत, 42 हाे चुके हैं ठीक

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:55 AM IST

देवास. शहर में शुक्रवार काेराेना के 4 नए मरीज मिले हैं। इसमें एक 9 साल की बच्ची, एक 13 साल का बच्चा, एक दूध वाले की पत्नी और एक सिविल इंजीनियर है। इन्हें मिलाकर अब जिले में काेराेना मरीजाें की संख्या 76 हाे गई हैं। शुक्रवार काे काेई मरीज ठीक हाेकर घर नहीं लाैटा। अब तक 42 मरीज ठीक हाे चुके हैं। 8 लाेगाें की माैत हाे चुकी है। 26 का इलाज चल रहा है। 
शुक्रवार काे निकले 4 मरीजाें में एक पठानकुआं, दो अमाेना के शांतिनगर और एक शांतिपुरा से है। पुराने कंटेनमेंट क्षेत्राें से मरीजाें के सामने आने के साथ ही दाे दिन में दाे नए कंटेनमेंट एरिया बन गए हैं। गुरुवार काे मिर्जा बाखल और शुक्रवार काे पठानकुआं कंटेनमेंट एरिया बन गया। पूरे क्षेत्र काे सील कर दिया है। परिवार के सदस्याें काे क्वारेंटाइन सेंटर में भेज दिया गया है।
दादा घबरा जाएंगे, बच्चे काे अमलतास में भर्ती मत कराे
शांतिपुरा में दाे दिन पहले एक बुजुर्ग की रिपाेर्ट पाॅजिटिव आने के बाद घर के सदस्याें काे क्वारेंटाइन कर सैंपल लिए थे। शुक्रवार काे घर में 13 साल के पाेते की रिपाेर्ट पाॅजिटिव आने के बाद टीम क्वारेंटाइन सेंटर से उसे लेकर अमलतास जा रही थी। इस पर बेटे के पिता ने टीम से निवेदन किया, बच्चे काे अमलतास मत ले जाओ, क्याेंकि यह दादा का बहुत लाडला है, अगर उन्हाेंने पाेते काे देख लिया ताे वह घबराकर ज्यादा बीमार हाे जाएंगे। पिता की गुहार पर टीम ने बच्चे काे उपचार के लिए जिला अस्पताल के आइसाेलेशन वार्ड में भर्ती किया। 

सिविल इंजीनियर ने शंका हाेने पर कराया था सीटी स्कैन 
पठानकुआं में शुक्रवार काे सामने आए 55 साल के पाॅजिटिव मरीज सिविल इंजीनियर हैं, जाे लाॅकडाउन हुआ तब से घर में ही रहना बता रहे हैं। टीम ने परिवार के सदस्याें की जानकारी निकाली ताे पता चला कुल 13 सदस्य हैं, जिन्हें क्वारेंटाइन सेंटर पहुंचा दिया है। टीम के अनुसार इंजीनियर ने तबीयत खराब हाेने पर डाॅक्टर से माेबाइल पर संपर्क कर उनके कहने पर देवास सीटी स्कैन सेंटर पर सीटी स्कैन करवाई थी और दवाइयां लेने के बाद भी आराम नहीं हाेने पर अमलतास अस्पताल में इलाज के लिए खुद चले गए। काेराेना के लक्षण दिखने पर उन्हें 19 मई काे भर्ती कर लिया था, जिनकी शुक्रवार काे रिपाेर्ट पाॅजिटिव आई है।

अब एक परिवार के 3 मरीज 
अमाेना के शांतिनगर में दूध बेचने वाले की पांच दिन पहले रिपाेर्ट पाॅजिटिव आने के बाद से क्षेत्र में हड़कंप है। युवक आसपास की काॅलाेनियाें में दूध बेचने के साथ ही राशन सामग्री का भी वितरण कर रहा था। युवक का उपचार अमलतास अस्पताल में चल रहा है, जिसके परिवार के टीम ने सैंपल लिए थे। शुक्रवार काे उनकी 28 साल की पत्नी और 9 साल की बेटी भी संक्रमित पाई गई। टीम ने परिवार के सदस्याें काे पहले ही क्वारेंटाइन सेंटर में रखा था, जहां से उन्हें अमलतास अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती करवाया है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना