बेतुका तर्क / मटमैला पानी सप्लाय, अधिकारी बोले- पानी का रंग देख घबराएं नहीं यह पीने याेग्य है

Dirty water supply, the officer said - do not be afraid to see the color of water, it is necessary to drink
X
Dirty water supply, the officer said - do not be afraid to see the color of water, it is necessary to drink

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 06:36 AM IST

देवास. शिप्रा नदी में तेज बारिश हाेते ही डेम में मटमैला पानी दाे दिन से आने लगा है, जिसे साफ करने में नगर निगम के जल संसाधन विभाग के कर्मचारियाें काे तीन गुना एलम और बिल्चिंग डालने के बाद भी रंग साफ नहीं हाे रहा है। नल में मटमैला पानी आने पर लाेग उसे पीने से डर रहे हैं, इधर अधिकारियाें का कहना है हमने पानी साफ करने के लिए अधिक मात्रा में सामग्री का उपयाेग किया, जाे पीने याेग्य है। इस पानी काे शहरवासी पी सकते हैं, हाे सके ताे एक बार उबाल लिया करें। बुधवार से शहर में फिर से साफ पानी मिलने लगेगा, क्याेंकि इंटकवेल में साफ करने की क्षमता काे बढ़ाया गया है।
गाैरतलब है कि जब भी तेज बारिश हाेती है ताे नदी से हाेकर मटमैला पानी सीधे डेम में एकत्रित हाे जाता है। पहली बारिश में पानी की आवक कम हाेने से डेम के गेट भी नहीं खाेल पाते, जिससे की आसपास के नालाें का भी गंदा पानी बारिश के पानी में मिलकर डेम तक पहुंचता है। 

शिप्रा में आसावंती पहाड़ी का एक नाला मिलता है, जिसकी मिट्टी लाल हाेने से डेम का पानी मटमैला कर देता है। इंटकवेल में पानी फिल्टर करने के लिए तीन गुना एनम डाल हेवी पार्टिकल काे बैठाया जाता है, बिल्चिंग का उपयाेग कर जर्मिनेशन काे कम कर देते हैं, जिससे जर्म्स खत्म हाे जाता है। बारिश से पहले शहर काे पानी नर्मदा नदी का पंपिंग के माध्यम से डेम में आने पर साफ मिल रहा था। अब बारिश हाेने से पानी का रंग बदल गया है, जाे नदी में बाढ़ अाने पर डेम के गेट खाेलते ही शुरुआत का मटमैला पानी बह जाएगा।

दाे दिन से नलाें में आ रहा मटमैला पानी
शहर की कई काॅलाेनियाें में पिछले दाे दिनाें से मटमैला पानी आ रहा है, जिसे देखकर लाेगाें ने पीने से इनकार कर दिया है। अासपास के निजी बाेरिंग वालाें से पानी लेकर उसका उपयाेग कर रहे हैं। इधर निगम के अधिकारियाें का दावा है कि वह बुधवार से पानी काे साफ कर नलाें तक पहुंचा देंगे।
पानी का रंग बदला, लेकिन वह पीने याेग्य 
बारिश का पानी डेम में आने से रंग बदल गया, जिसे अच्छे से साफ किया जा रहा है। पानी लाेगाें के पीने याेग्य है, चाहे ते बारिश के दिनाें में उबाल कर पीये।
इंदुप्रभा भारती, जल संसाधन विभाग ननि देवास

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना