टाेटल लाॅकडाउन का पहला दिन:बेवजह घूमने वालों से लगवाई उठक-बैठक

देवास6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बेवजह घूमने वालाें से लगवाई उठक-बैठक। - Dainik Bhaskar
बेवजह घूमने वालाें से लगवाई उठक-बैठक।
  • सुबह पांच बजे से लाेगों की आवाजाही शुरू हुई, सुबह 10 बजे के बाद पुलिस ने बढ़ाई सख्ती

टाेटल लाॅकडाउन के पहले दिन गुरुवार काे पुलिस दुविधा में नजर आई, क्याेंकि सड़क पर आ-जा रहे जिन लाेगाें काे राेकने पर उनमें से ज्यादातर लाेग ऐसे थे, जिन्हाेंने पुलिस काे दवा का पर्चा दिखाया आर कहा दवा लेने जा रहे हैं। ऐसे लाेगाें काे पुलिस काे छाेड़ना पड़ा।

कुछ लाेग ऐसे भी थे जाे बिना कारण के घराें से बाहर निकले थे, पुलिस ने उनसे बीच सड़क पर ही उठक-बैठक लगवाई और आगे से बिना कारण घर से बाहर नहीं निकलने की हिदायत दी। काेराेना की चेन ताेड़ने गुरुवार से 7 मई तक टाेटल लाॅकडाउन लगाया गया है।

पहले दिन सुबह पांच बजे से सड़काें पर लाेगों की आवा-जाही दिखी, जो सुबह 8 बजे तक शहर के हर रोड पर लोग चहल-कदमी करते नजर आ रहे थे। ईदगाह रोड पर फल की लोडिंग गाड़ियां खाली हो रही थी। एबी रोड उज्जैन चौराहे पर सुबह 7.10 बजे तक कोई भी पुलिसकर्मी अधिकारी नहीं थे। भास्कर रिपाेर्टर ने सुबह से लेकर शाम तक की स्थिति की लाइव रिपाेर्टिंग की।

चाैराहाें पर चैकिंग : टीआई बाेले-बीच में रुका ताे 100 उठक बैठक लगाना पड़ेगी

ऐसे बंद हुई लाेगाें की आवाजाही

सुबह 7.30 बजे सयाजी द्वार पर एक एएसआई और एक महिला आरक्षक नजर आ रहे थे पर राहगीर आराम से निकल रहे थे। पौने आठ बजे जब नायब तहसीलदार पूनम तोमर और टीआई कोतवाली उमराव सिंह एमजी रोड से नावेल्टी चौराहा, घंटाघर जवाहर चौक होते हुए तीन बत्ती चौराहा पहुंचे

जहां पर लोगों को आता-जाता देख ट्रैफिक पुलिस के बैरिकेड्स मंगवाए और प्रमुख चौराहों पर बैरिकेड्स रखवाकर रास्ते जाम करवाएं और फिर पुलिस ने राहगीरों को फटकारना शुरू किया तो लोगों का निकलना बंद हुआ।

जैसे ही टीआई उमराव सिंह, तहसीलदार तोमर सुबह सवा 9 बजे भोलेनाथ मंदिर के सामने से निकले तो देखा कि एक युवक गन्ने की चरखी का ठेला लगाकर ग्राहकों का इंतजार कर रहा था। टीआई ने गाड़ी रोकी और दुकानदार को बुलाकर कहा- शहर में टोटल लॉकडाउन है, सारी दुकानें बंद है और तुमने दुकान खोल रखी है।

कैसे समझाऊं, कैसे मानोगे... चल 50 उठक-बैठक बिना विलंब के चालू कर दे। रुक जाएगा तो 100 लगाना पड़ेगी। यह सुनकर युवक ने स्पीड में 50 उठक-बैठक लगा दी। कान पकड़कर माफी मांगी तो टीआई ने हिदायत देकर घर जाने को कहा।

खबरें और भी हैं...