पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नो चालान, सीधे जेल:न नेताओं के फोन चले ना ही बेवजह के बहाने, दो घंटे के लिए अस्थाई जेल भेजा

देवास2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मास्क नहीं पहनने वालों पर कार्रवाई का रविवार, 5 हजार चालान बनाए
  • शादी समाराेह, ड्यूटी और इलाज कराने जा रहे लाेगाें काे भी नहीं छाेड़ा

मास्क लगाओ या फिर जेल जाओ, इसी अंदाज में रविवार काे प्रशासन सड़काें पर उतरा और सख्ती के साथ कार्रवाई करते हुए बिना मास्क लगाए लाेगाें काे सीधे जेल भेजा। किसी का एक बहाना नहीं सुना, किसी ने कहा हम इलाज कराने जा रहे हैं, किसी ने कहा मैं ड्यूटी पर जा रहा हूं, काेई बाेला मैं शादी में जा रहा हूं, किसी ने नेताओं काे फाेन लगाए, लेकिन माैके पर माैजूद एडीएम प्रकाश चाैहान, सीएसपी विवेक सिंह, एसडीएम प्रदीप साेनी, ट्रैफिक टीआई सुप्रिया चाैधरी, तहसीलदार पूनम ताेमर और निगम अमले ने एक की भी नहीं सुनी, सीधे पकड़ा...और चिमनाबाई स्कूल में बनाई गई अस्थायी जेल में दाे घंटे के लिए भेज दिया।

कार्रवाई सुबह साढ़े दस बजे से सयाजी द्वार से शुरू हुई। चाैराहे पर सड़क के दाेनाें ओर चेकिंग प्वाइंट बनाए गए। अधिकारी खुद माैके पर खड़े हाेकर वाहनाें काे राेक रहे थे। प्रारंभ में कुछ देर ताे चालानी कार्रवाई चली, लेकिन जैसे ही लाेगाें ने विवाद की स्थिति पैदा की ताे एसडीएम साेनी ने सीधे जेल भेजना शुरू कर दिया।

खुशियों में बाधा: दूल्हे काे छाेड़ा, दूसरे को भेजा

एक कार में शादी से लाैट रहा दूल्हा परिजनाें के साथ बैठा था, मास्क नहीं लगाए था, पुलिस ने गाड़ी राेक ली, लेकिन एडीएम चाैहान ने उसे जाने दिया। इसी बीच एक कार में एक दंपती उज्जैन से शादी से लाैटकर शिप्रा की तरफ जा रही थे, पुलिस ने उसे राेककर पति काे जेल भेज दिया।

धमकी: हमारे साथ पशुओं जैसा व्यवहार किया गया

सीहाेर से एक व्यक्ति अपनी बहन के यहां शादी में जा रहे थे, लेकिन मास्क नहीं लगाए थे, उन्हें राेककर गाड़ी में बिठा दिया गया, जब उन्हाेंने चिमनाबाई स्कूल में बनी अस्थायी जेल में भेजा जा रहा था, तब उन्होंने मीडिया से कहा, हमारे साथ पशुओं जैसा व्यवहार हाे रहा है। नाराजगी जताई पर काम नहीं आई।

अपनापन: अस्थाई जेल में मिलने पहुंच गए परिजन

उधर, अस्थायी जेल में यह स्थिति थी कि लाेगाें काे अंदर बंद कर दिया था, कुछ लाेगों काे सूचना मिली ताे वे अपने लाेगाें से मिलने जेल पहुंच गये और यहां माैजूद जेलर से छुड़वाने के लिए अनुराेध करने लगे, लेकिन जेलर ने कहा मैं कुछ नहीं कर सकता आप इस मामले में वरिष्ठ अधिकारियाें ने चर्चा कीजिए।

अफसर बाेले: यह कार्रवाई जरूरी थी

इधर, एडीएम चाैहान, एसडीएम साेनी ने बताया यह सख्ती जरूरी थी क्याेंकि लंबे समय से समझाइश दे रहे थे। लोग नहीं मान रहे थे। संक्रमण से बचाव के लिए मास्क और अन्य प्राेटाेकाल का पालन ही एक रास्ता है। ऐसे में ये कार्रवाई जरूरी हो गई थी। इसलिए जिलेभर में प्रशासन ने ये कार्रवाई की।

काम नहीं आए बचने के ये तरीके-

सुलभ काॅम्प्लेक्स में घुस गया युवक

एक व्यक्ति बाइक बस स्टैंड की ओर से आ रहा था। पुलिस ने रोका तो पीछे बैठा युवक काॅम्प्लेक्स में घुस गया। पुलिस पकड़कर लाई और जेल भेजा।

जेलर से मिले: अब छोड़ दो जेल से

लोगों को जेल भेजने के बाद परिजन उनसे मिलने के लिए जेल पहुंच गए। वहां जेल से मिलकर छोड़ने की गुहार लगाई लेकिन उनकी एक ना चली।

पुलिस से डरकर गिर गए बुजुर्ग​​​​​​​

एक बाइक सवार बुजुर्ग काे पुलिस राेक ही रही थी कि वे घबराकर राेड पर गिर गए, बाेले, मुझे पुलिस से डर लगता है इसलिए गिर गया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर जमीन जायदाद संबंधी कोई काम रुका हुआ है, तो आज उसके बनने की पूरी संभावना है। भविष्य संबंधी कुछ योजनाओं पर भी विचार होगा। कोई रुका हुआ पैसा आ जाने से टेंशन दूर होगी तथा प्रसन्नता बनी रहेगी।...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser