पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Dewas
  • Remdacivir Injections Were Sold For 25 To 50 Thousand; Medical Director Arrested With Mail female Nurse Of Private Hospital

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

देवास में कालाबाजारी का पर्दाफाश:25 से 50 हजार तक में बेच रहे थे रेमडेसिविर इंजेक्शन; निजी अस्पताल के मेल-फिमेल नर्स के साथ मेडिकल संचालक गिरफ्तार

देवास8 दिन पहले
मामले की जानकारी देते SP डॉ शिवदयाल सिंह।

कोरोना महामारी में लोग अपनों की जान बचाने के लिए सभी प्रकार के प्रयास कर रहे है। वही कुछ ऐसे लोग भी है जो इस आपदा में भी अवसर को ढूंढने से बाज नहीं आ रहे हैं। कोरोना महामारी के दौरान सबसे ज्यादा ऑक्सीजन और रेमडेसिविर इंजेक्शन की आवश्यकता हो रही है। इसी का कुछ अवसरवादी लोग फायदा उठा रहे हैं।

कोरोना महामारी के दौरान अस्पताल मंदिर है और यहा के डॉक्टर और नर्स भगवान का रूप है। लेकिन इस अस्पताल रूपी मंदिर में भी नर्स और कंपाउंडर आपदा में अवसर तलाशने में पीछे नहीं है। ऐसा ही मामले का सोमवार को देवास में पुलिस ने पर्दाफाश किया। प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि आरोपी 25 से 50 हजार तक में इंजेक्शन बेच रहे थे।

देवास के प्राइम हॉस्पिटल की नर्स और कंपाउंडर उत्कृष्ट विद्यालय के पास रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करते पकड़े गए। SP डॉ शिवदयाल सिंह ने रेमडेसिविर इंजेक्शन और दवाइयों की कालाबाजारी करने के मामले में गिरोह के तीन लोगों को पकड़ने का खुलासा किया। कोतवाली थाना TI उमरावसिंह को मुखबिर से सूचना मिली थी कि प्राइम हॉस्पिटल के कर्मचारी रेमडेसिविर की कालाबाजारी कर रहा है। इसी आधार पर मुखबिर को ग्राहक बनाकर पुलिस पहुंची और दोनों से सौदेबाजी की। 27 हजार रुपए में एक इंजेक्शन देना तय हुआ था। जैसे ही इंजेक्शन लेकर आए पुलिस ने प्राइम हॉस्पिटल की नर्स पूजा पिता देवीसिंह कलासिया (20) निवासी ग्राम बारोली थाना सोनकच्छ हालमुकाम राजाराम नगर, देवास और कंपाउंडर अंकित पिता राजाराम पटेल (20) निवासी मेंढकीचक, देवास को गिरफ्तार कर लिया है।

कालाबाजारी करने वाले को जमानत नहीं:कोर्ट ने कहा - रेमडेसिविर के आभाव में पीड़ित की मृत्यु होना, अप्रत्यक्ष रूप से मरीजों को मौत बांटने के समान, इसलिए जमानत देना उचित नहीं
बताया जा रहा है कि इंदौर और उज्जैन के कुछ लोग भी इस गिरोह में शामिल है। फिलहाल कोतवाली पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ मप्र ड्रग कंट्रोल सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। पुलिस इनके खिलाफ रासुका के तहत भी कार्रवाई करेगी। पुलिस को पूजा ने पूछताछ में बताया कि नावेल्टी चौराहे पर स्थित फायदा मेडिकल स्टोर से संचालक रूद्र पिता भगवती तिवारी (24) निवासी मुक्ति मार्ग को 5 दिन पहले दो रेमडेसिविर इंजेक्शन 22 हजार और 25 हजार रुपए में बेचा था। पुलिस को आशंका है कि इस गिरोह में अन्य लोगों के साथ हॉस्पिटल के लोग भी शामिल है। SP डॉ शिवदयाल सिंह ने बताया कि पूरे मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है। अभी तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

पांच दिन पहले दाे इंजेक्शन 22000 व 25000 में बेचे थे
नर्स के द्वारा पूछताछ में बताया कि फायदा मेडिकल स्टोर के रुद्र तिवारी को पांच दिन पहले दाे इंजेक्शन 22000/ एवं 25000/ में बेचे थे। आरोपियों द्वारा रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी कहां से की जा रही थी, इसके संबंध में आरोपियाें से पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने अाराेपियाें के पास से तीन रेमडेसिविर इंजेक्शन एवं अन्य दवाइयां जब्त की हैं। टीअाई सिंह के मुताबिक नर्स के घर की भी तलाशी ली गयी, वहां से कुछ दवाएं मिली हैं, जिनका की काेराेना के इलाज में उपयाेग किया जाता है।

यह हैं अाराेपी, जाे कर रहे थे रेमडेसिविर की कालाबाजारी
1.
प्राइम अस्पताल की फीमेल नर्स पूजा पिता देवीसिंह कलासिया उम्र 20 साल, निवासी ग्राम बारोली थाना सोनकच्छ, हाल मुकाम 66 राजाराम नगर सिविल लाइन देवास।
2. प्राइम अस्पताल के मेल नर्स अंकित पिता राजाराम पटेल उम्र 20 साल निवासी ग्राम मेंढकी चक देवास।
3. रुद्र पिता भगवती तिवारी उम्र 24 साल निवासी 17/2 मुक्ति मार्ग देवास फायदा मेडिकल स्टोर नावेल्टी चैराहा देवास।

संचालक चिल्लाैरिया बोले- नर्स ने अस्पताल अाना बंद कर दिया था
इस मामले में प्राइम अस्पताल के संचालक डाॅ. पवन चिल्लाैरिया ने कहा है कि नर्स पूजा लगभग 12 दिन से अस्पताल नहीं अा रही थी, युवक अंकित भी नहीं अा रहा था। फाेन पर नर्स से नहीं अाने का कारण पूछा था ताे उसने कहा था कि उसकी तबीयत ठीक नहीं है, काेविड में काम नहीं कर पाएगी, इसलिए नहीं अा रही है। डाॅ. चिल्लाैरिया के मुताबिक युवक अंकित काे भी कुछ दिनाें पहले पूजा ने ही काम पर रखवाया था, दाेनाें जीएनएम नर्सिंग स्टूडेंट हैं। दाेनाें ने गैरकानूनी काम किया है, इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई हाेना चाहिए। डाॅ. चिल्लाैरिया ने कहा है कि हमारे यहां ताे जितने भी रेमडेसिविर अाते हैं, उनका बाकायदा रिकार्ड रखा जाता है, संबंधित मरीज काे उसके अटेंडर के सामने ही लगाया जाता है, अाैर इसकी सूची राेजाना कलेक्टर अाफिस भेजी जाती है, वहां से फिर यह सूची वैरिफाई हाेती है।

पांच इंजेक्शन में से दाे इंदाैर में बेचे, दाे मेडिकल वाले काे, एक बरामद किया
टीअाई सिंह ने बताया कि इनके पास से पांच इंजेक्शन बरामद हुए हैं। इन्हाेंने दाे इंजेक्शन इंदाैर में किसी सुनील शर्मा नाम के व्यक्ति काे बेचे हैैं, दाे मेडिकल वाले ने खरीदे अाैर एक इंजेक्शन हमने बरामद किया है। यह लाेग इंजेक्शन कहां से लेकर अाते थे। इस मामले में हम इनसे पूछताछ कर रहे हैं।

मेडिकल वाले के अलग-अलग बयान
टीअाई सिंह के मुताबिक फायदा मेडिकल के रुद्र ने दाे इंजेक्शन इनसे खरीदी थे। एक 22 हजार में, अाैर दूसरा 26 हजार में, 22 हजार रुपए इसने केश दिए अाैर 26 हजार रुपए लड़की के खाते में ट्रांसफर किए। बाद में फिर यह दाेनाें इंजेक्शन इसने 32 अाैर 38 हजार में अन्य काे बेच दिए, अब कह रहा है कि वह ताे मैंने अपने बड़ेे पापा काे लगवाने के लिए खरीदे थे।

मुखबिर से कहा, एटीएम पर बुला ले, पर लड़की नहीं अाई
पुलिस काे मुखबिर से सूचना मिली थी कि नर्स पूजा 27 हजार में रेमडेसिविर बेच रही है। टीअाई सिंह के मुताबिक हमनें मुखबिर से कहा था कि उसे फाेन करके किसी एटीएम पर बुला ले, कहा-हम एटीएम से पैसा निकालकर दे देंंगे, जब उसने नर्स काे फाेन किया ताे उसने मना कर दिया अाैर कहा कि नहीं पैसे ताे नगद ही लेगी। पैसे लेकर उत्कृष्ट स्कूल की दीवार के पीछे अा अा जाअाे, फिर हमनें नगद पैसाें की व्यवस्था की। हमारी टीम सिविल में पहुंची अाैर एक इंजेक्शन ग्राहक बनकर खरीद लिया, एेसे हमने इस गिराेह का पर्दाफाश किया।

गिराेह का पर्दाफाश करने में इनकी रही भूमिका
रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले गिराेह का पर्दाफाश करने में थाना प्रभारी थाना कोतवाली उमराव सिंह, उनि पवन यादव, ईखर मंडलोई, सउनि खलील खान प्रधान आरक्षक परवेज खान, प्रधान आरक्षक राकेश तिवारी, प्रधान आरक्षक रधुनदंन मुकाती प्रधान आरक्षक जितेन्द्र कौशल, आर मातादीन, आर शिवप्रताप सिंह सेंगर, मनीष देथलिया महिला आरक्षक मनीषा मीणा, नेहा ठाकुर की विशेष भूमिका रही।

सभी पर लगाएंगे रासुका
इस केस में जितने भी अाराेपी हाेंगे सभी पर रासुका लगाएंगे। किसी काे नहीं छाेड़ेगे, इसमें एकाध डाॅक्टर भी शामिल हैं। हम वैरिफाई कर रहे हैं। यह सब हमनें सबूत के अाधार पर लिया है, पैसाें का ट्रांजेक्शन हुअा है, खाते भी खंगाल रहे हैं, किसी काे नहीं बख्शा जाएगा। इंदाैर-उज्जैन भी टीम भेजी है।
-डाॅ शिवदयाल सिंह, पुलिस अधीक्षक देवास

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय चुनौतीपूर्ण है। परंतु फिर भी आप अपनी योग्यता और मेहनत द्वारा हर परिस्थिति का सामना करने में सक्षम रहेंगे। लोग आपके कार्यों की सराहना करेंगे। भविष्य संबंधी योजनाओं को लेकर भी परिवार के साथ...

और पढ़ें