पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लोगों में दिखा उत्साह:वैक्सीनेशन की प्रक्रिया आसान हुई ताे एक दिन में लगे 9 हजार टीके

देवास13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मल्हार स्मृति मंदिर में वैैक्सीनेशन के लिए अपनी बारी का इंतजार करते हुए कतार में बैठे लाेग। - Dainik Bhaskar
मल्हार स्मृति मंदिर में वैैक्सीनेशन के लिए अपनी बारी का इंतजार करते हुए कतार में बैठे लाेग।
  • रविवार को भी जिले के 64 केंद्रों में वैक्सीनेशन किया गया

शहर सहित जिलेभर में रविवार काे 64 केंद्राें पर काेविड वैक्सीन लगाई गई और सुबह से लेकर देर शाम तक 9 हजार लाेगाें ने वैक्सीन लगवाई, यह आंकड़ा अभी तक का सबसे ज्यादा है। वैक्सीनेशन का यह उत्साह रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया आसान हाेने के बाद दिखाई दे रहा है, पहले भी लाेग वैक्सीन लगवाने आ रहे थे, पर स्लाट बुक नहीं हाेने के कारण दिक्कत आ रही थी।

लाेगों काे चार चार दिन इंतजार करना पड़ रहा था, वहीं जिन लाेगाें के पास स्मार्ट फाेन थे, वे ही रजिस्ट्रेशन करवा पा रहे थे, पर अब प्रक्रिया काे सरल कर दिया गया है। अब सीधे काेविड वैक्सीनेशन सेंटर पर जाएं और साथ में आधार कार्ड लेकर पहुंचें ताे सीधे तत्काल रजिस्ट्रेशन हाेगा और आपकाे वैक्सीन लग जाएगी।

यहां यह प्रक्रिया प्रारंभ हुए अभी दाे दिन ही हुए हैं और सेंटरों पर भीड़ बढ़ने लगी है। रविवार काे ही सभी सेंटरों पर वैक्सीनेशन के लिए लंबी लंबी कतारें लगी रहीं, उधर सतवास में ताे लाेगों में वैक्सीनेशन के लिए इतना उत्साह देखा गया कि दाेपहर तक ही 200 डाेज लग चुके थे।

अाधार कार्ड लेकर सीधे पहुंचें सेंटर, तत्काल हाेगा रजिस्ट्रेशन

11 लाख 89 हजार 181 वैक्सीन लगाने का लक्ष्य
जिले में 11 लाख 89 हजार 181 लोगों को टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है, अभी तक शहर में 89 हज़ार 330 लोग टीका लगवा चुके हैं। जिले में 12 लाख 28 हजार 768 कुल जनसंख्या है और जिले में टीकाकरण का लक्ष्य 16 जनवरी से रविवार तक 2 लाख 47 हजार 380 लोगों का टीकाकरण हो चुका है।

अब लोग खुद टीकाकरण कराने आगे आकर सेंटर पर बैठकर अपनी बारी का इंतजार करते हैं। जिले में एक लाख 53 हजार 126 सीनियर सिटीजन को वैक्सीन लग चुकी है और 18 से 44 वर्ष के 55 हजार 682 लोग वैक्सीन लगवा चुके हैं।

सेकंड डोज के लिए हो रहे हैं परेशान : हालांकि, इन सबके बीच वे लाेग जरूर परेशान हाे रहे हैं, जिन्हें दूसरा डाेज लगवाना है। गीता भवन सेंटर पहुंचे आयुष चौधरी सेकंड डोज लगवाने पहुंचे तो उनको बोला गया आज नहीं लगेगी।

आयुष ने बताया मैंने पहला डोज 16 मार्च को लगवाया था, मैं रविवार को गीताभवन में आया 84 दिन पूरे हो गए पर मुझे बोला गया आज आपका नंबर नहीं है। मैं वापस जा रहा हूं। कर्मचारी काॅलोनी के सलीम खान की पत्नी शबनम को भी दूसरा डोज नहीं लग सका।

दोपहर में ही खत्म हाे गए वैक्सीन के 200 डोज
ग्रामीण अंचल में वैक्सीनेशन को लेकर जागरूकता बढ़ने लगी है। बड़ी संख्या में ग्रामीण अपने परिवार के साथ वैक्सीन लगाने पहुंच रहे हैं। सतवास सेंटर पर रविवार को मिले 200 डोज दाेपहर 1 बजे तक ही खत्म हाे गए। इसके बाद आए लोगों को वापस भेजा गया। हालांकि अब वैक्सीन के लिए टोकन प्राप्त करने वालों की लाइनें नहीं लग रही हैं। कोई भी व्यक्ति आराम से आकर टोकन प्राप्त कर सकता है।

सौ प्रतिशत वैक्सीनेशन कराने के लिए कर रहे हैं प्रयास
ज्यादा से ज्यादा टीकाकरण हो उसके लिए अब रविवार को भी टीकाकरण कराया जा रहा है। शासन की मंशा है कि शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में 100 प्रतिशत वैक्सीनेशन हो उसके लिए हर समय प्रयास किए जा रहे हैं।-डाॅ केके कल्याणे, जिला टीकाकरण अधिकारी

खबरें और भी हैं...