पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सरकारी सिस्टम सक्रिय:जिला अस्पताल में 10 बेड का डेंगू वार्ड बनाया, आज निजी अस्पतालाें की लेंगे बैठक

धार5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

शहर व जिले में डेंगू का प्रकाेप बढ़ने के बाद सीएम के चिंता जताने के बाद सरकारी सिस्टम भी सक्रिय हाे गया है। स्वास्थ्य विभाग व नगर पालिका की लापरवाही के चलते दाे माह से मरीजाें की संख्या बढ़ी है। जिले में 212 संभावित हाेकर पुष्टि मात्र 41 में की जा रही है। जबकि इससे अधिक मरीज शहर के तीन अस्पतालाें में भर्ती हैं।

रविवार काे अपर कलेक्टर सलोनी सिडाना ने जिला चिकित्सालय पहुंचकर डेंगू के मरीजों के इलाज की व्यवस्थाओं काे देखा। डेंगू की जांच कैसे की जा रही और कीट है या नहीं इसके बारे में भी अधिकारियाें से पूछताछ की। 10 बेड का डेंगू वार्ड भी बनाया गया है। साेमवार काे निजी अस्पतालाें की बैठक प्रशासन ने बुलाई है।

एडीएम सिडाना ने बताया फिलहाल जिला चिकित्सालय में डेंगू का एक भी मरीज भर्ती नहीं है। यहां दस बेड का वार्ड बना दिया है। पर्याप्त मात्रा में दवाएं व सैंपलिंग की क्षमता उपलब्ध है। वार्ड का नोडल ऑफिसर एमडी डॉ. मनीष को बनाया गया है। लगभग 100 सैंपल प्रतिदिन लिए जा रहे हैं।

अब तक सभी रिपोर्ट निगेटिव आई है। जिला मलेरिया अधिकारी धर्मेंद्र जैन ने बताया कि निजी अस्पतालाें में जाे मरीज भर्ती हाे रहे है वह माइल्ड डेंगू के प्रकाेप से भी भर्ती हाे रहे है। इसके लिए मेडम ने निजी अस्पताल वालाें की बैठक भी बुलाई है।

मुख्यमंत्री के निर्देश पर 15 सितंबर को सुबह 10 बजे से डेंगू के खिलाफ अभियान चलाया जाएगा। इसमें फाॅगिंग, लार्वा नष्ट करने, जल जमाव को खाली करने जैसी डेंगू से बचाव और नियंत्रण संबंधी गतिविधियां चलाई जाएगी।

खबरें और भी हैं...