मामला 247 करोड रुपए की जमीन का:इंदौर से गिरफ्तार आरोपी को कोर्ट में किया पेश, पुलिस को 17 दिसंबर तक के लिए मिला रिमांड

धार7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपी को कोर्ट ले जाते हुए पुलिस - Dainik Bhaskar
आरोपी को कोर्ट ले जाते हुए पुलिस

जनकल्याण प्रयोजन हेतु दान में दी गई जमीन की अफरा-तफरी मामले में प्रकरण दर्ज हुए करीब 17 दिन बीत चुके हैं। इसमें करीब 15 संदेही जेल में हैं। वहीं इंदौर से गिरफ्तार किए गए 16वें आरोपी मोहम्मद शहजाद को पुलिस ने मंगलवार को कोर्ट में पेश किया। पुलिस को शहजाद से पूछताछ के लिए 17 दिसंबर तक रिमांड मिला है। पुलिस गिरफ्त में आते ही शहजाद उसके द्वारा किए गए सौदों को लेकर जानकारियां दे रहा है। इधर पुलिस ने शहजाद की गिरफ्तारी के बाद फरार आरोपी शाहिन और जावेद नाम के व्यक्ति की तलाश तेज कर दी है। मंगलवार को पुलिस की कई टीमें जिले के बाहर जावेद को तलाशने के लिए पहुंची थी।

संरक्षण देने वाले भी अब बनेंगे अब आरोपी

इस भूमि घोटाले में अभी भी 1 दर्जन से अधिक लोग प्रकरण दर्ज होने के बाद भूमिगत हो गए हैं। पुलिस इनसे जुड़े लोगों को निगरानी में रखी है। वहीं संरक्षण देने वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की बात भी सामने आई है। पुलिस रिमांड मिलने के बाद पुलिस को शहजाद के माध्यम से फरार आरोपियों सहित रजिस्ट्रियों एवं घोटाले के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारियां मिलने की पूरी संभावना है। गिरफ्तारी के बाद से ही शहजाद इस मामले में स्वयं को मात्र एक डमी व्यक्ति होने की बात कह रहा है। इस पूरे मामले में पुलिस ने 4 लोगों को मुख्य आरोपी बनाया है। जिसमें सुधीर उर्फ बनी दास, अखिलेश अमृतलाल, सुधीर शांतिलाल और विवेक तिवारी के नाम शामिल हैं। इसमें दो लोगों को पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर लिया था। वे अभी जेल में हैं। वहीं दो लोग सुधीर शांतिलाल और अखिलेश की तलाश पुलिस कर रही है। इसमें भी पुलिस सुधीर शांतिलाल के पकड़ाए जाने से मामले में और महत्वपूर्ण जानकारियां मिलने की संभावनाएं जता रही है।

खबरें और भी हैं...