नुकसानी देख पंचनामा बनाया / तालाब में ब्लास्टिंग का काम ग्रामीणाें द्वारा बंद कराने के बाद ठेकेदार पाेकलेन से करवा रहा था मुरम की खुदाई

After blasting work by the villagers in the pond, the contractor was getting the paklen done to excavate the Muram
X
After blasting work by the villagers in the pond, the contractor was getting the paklen done to excavate the Muram

दैनिक भास्कर

May 25, 2020, 07:46 AM IST

धार. सादलपुर स्थित खोखरिया तालाब में रविवार को आखिरकार राजस्व अमला पहुंच गया। खास बात यह रही कि जिस समय राजस्व अमला मौके पर पहुंचा था वहां पर पोकलेन मशीन से लगातार खुदाई की जा रही थी। अधिकारियों द्वारा खुदाई बंद करवाकर मौके का पंचनामा बनाकर वरिष्ठ अधिकारियाें काे रिपाेर्ट देने की बात कही।
गौरतलब है कि सादलपुर स्थित खोखरिया तालाब में ब्लास्टिंग कर केसूर-बड़नगर मार्ग के लिए ठेकेदार द्वारा मुरम ले जाई जा रही है। ब्लास्टिंग करने से कई मकानाें में दरारें आने के साथ बाेरिंग में ट्यूबवेल फंस गई है। इसे लेकर ग्रामीणों व सरपंच ने दाने दिन पूर्व जिले के आला अधिकारियों को अवगत करवाते हुए ब्लास्टिंग का काम बंद करवा दिया था। कार्य बंद करवाने के बाद संबंधित कंपनी के लोगों द्वारा पोकलेन की मदद से डंपरों में मुरम भरकर ले जाई जा रही थी। रविवार दोपहर अचानक राजस्व अमला पहुंचा और पोकलेन को बंद करवाकर मौके का पंचनामा बनाया। 
इधर पंचनामा बनाने के दौरान ग्राम बिजूर व सादलपुर के सरपंच भी मौजूद थे। ग्रामीण भी वहां जमा हो गए थे। अधिकारियों ने ब्लास्टिंग के कारण स्कूल आदि जगहों पर जो नुकसान हुआ है उसका भी अवलोकन करा दरारें देखी। बताया जाता है कि करीब 20 फीट गहरी खुदाई कर ब्लास्टिंग की जा रही थी। जिससे क्षेत्र में नुकसान हो रहा था। अधिकारियों द्वारा फिलहाल मौके का पंचनामा बनाकर नुकसान का अवलोकन किया।

मैकेनिकल इंजीनियर काे खुदाई नहीं करने काे कहा है
अधिकारियों के निर्देशन में मौके पर गए थे। पोकलेन मशीन को बंद करवाया गया है। संबंधित कंपनी के मैकेनिकल इंजीनियर को भी कहा है कि जब तक किसी उच्च अधिकारियों की परमिशन नहीं मिले तब तक किसी भी प्रकार की खुदाई नहीं करें। मौके का पंचनामा बनाया गया है। स्कूल में जो दरारें आई थी उसे भी देखा है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना