पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नहीं सुधर रहे हालात:अस्पताल में नहीं एनेस्थेटिस्ट, विशेषज्ञाें की भी कमी

धार13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिला अस्पताल में स्टाफ की कमी- 407 में से 237 काम कर रहे, जरूरत 170 की

सात तहसील और 13 ब्लाॅक के मरीजाें का मुख्य केंद्र जिला अस्पताल स्टाफ की बाट जाेह रहा है। यहां चारों के श्रेणियों के पद रिक्त हैं। प्रथम श्रेणी में अधिकांश विशेषज्ञ डाॅक्टर नहीं हैं, ताे द्वितीय श्रेणी में भी चिकित्सा अधिकारी नहीं हाेने के साथ 33 डाॅक्टर ही काम कर रहे हैं। आयुष चिकित्सक, नर्सिंग अधीक्षिका का पद भी रिक्त पड़ा है। तृतीय व चतुर्थ श्रेणी के भी 134 पद रिक्त पड़े हैं।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी उच्चाधिकारियाें तक स्टाफ की समस्या सुनाते हुए थक चुके हैं। कई बार पत्र लिखे, बैठकों में मुद्दे उठाए। मगर हर बार निराशा ही मिली। जानकारी के मुताबिक कुल 407 में से 237 कर्मचारी काम कर रहे हैं, जबकि 170 के स्टाफ की पूर्ति करना और जरूरी है। तभी हमारा जिला अस्पताल स्टाॅफ के मामले में तंदुरुस्त हाे सकेगा।

अस्थी राेग के दाे, रेडियाेलाॅजिटिस्ट हैं ही नहीं : अस्थी राेग विशेषज्ञ के 4 पद स्वीकृत हैं। जिसमें से दाे रिक्त हैं और दाे कार्य कर रहे हैं। रेडियाेलाॅजिस्ट के तीन पद स्वीकृत है और तीनों की रिक्त पड़े हैं। निश्चेतना के भी 4 पद स्वीकृत हैं और चाराें की रिक्त पड़े हैं। सर्जन, एमडी मेडिसिन, नेत्र राेग विशेषज्ञ, ईएनटी, दंत राेग विशेषज्ञ, क्षय राेग विशेषज्ञ नहीं हैं। इसके अलावा स्त्री राेग के चार में से एक ही विशेषज्ञ काम कर रहे हैं। औषधि विशेषज्ञ भी तीन में से एक ही है और उन्होंने भी इस्तीफा दे दिया है।

ऐसे में वर्तमान में औषधि विशेषज्ञ एक भी नहीं है। द्वितीय श्रेणी में दाे चिकित्सा अधिकारी के पद रिक्त खाली हैं। इसके अलावा इस श्रेणी के केवल 33 डाॅक्टर ही काम कर रहे हैं। आयुष चिकित्सक, नरसिंग अधीक्षिका का पद खाली है।

एक नजर आंकड़ों पर

प्रथम श्रेणी:

39 पद स्वीकृत 34 काम कर रहे 7 रिक्त है

द्वितीय श्रेणी:

26 पद स्वीकृत 24 काम कर रहे 2 रिक्त पड़े हैं

तृतीय श्रेणी:

263 पद स्वीकृत 174 कार्यरत 89 रिक्त

चतुर्थ श्रेणी:
79 पद स्वीकृत
34 काम कर रहे
45 रिक्त

कई बार अवगत करा चुके हैं

स्टाॅफ की कमी के बारे में कई बार शासन काे पत्र लिख चुके हैं। कमिश्नर काे भी अवगत करा दिया गया है। बैठकाें में भी हर बार स्टाफ की ही मांग उठाई जाती है। स्टाॅफ नहीं हाेने से कई समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।

-डाॅ. अनुसुईया गवली, सिविल सर्जन, धार

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही है। व्यक्तिगत और पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। बच्चों की शिक्षा और करियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी आ...

    और पढ़ें