पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बेखौफ बदमाश:ढाेल बजाने की बात पर मारपीट कर रहे युवकाें काे समझाने पहुंचे ताे पुलिस पर ही किया हमला

धार/पीथमपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पीथमपुर पुलिस ने शासकीय कार्य में बाधा सहित दाे प्रकरण दर्ज किए

ढाेल बजाने की बात पर दाे युवकाें ने एक ढाेली से मारपीट की। सूचना पर पुलिस माैके पर पहुंची और युवकाें काे समझाइश देने लगी ताे वे पुलिस से भी धक्का-मुक्की करने लगे। एक युवक ने प्रधान आरक्षक काे सिर में डंडे से मार दिया। पुलिस ने मंगलवार काे शासकीय कार्य में बाधा सहित दाे केस दर्ज किए हैं। घटना साेमवार दोपहर 2 बजे हुई। राधेश्याम नाम का ढोली घर-घर जाकर ढोल बजाकर इनाम मांग रहा था। इसी कॉलोनी में अयोध्या राजपूत और उसके जमाई राजेश्वर सिंह ने ढोल बजाने की बात को लेकर उससे मारपीट की। पुलिस के अनुसार जो आरोपियाें ने 500 रुपए में ढोल बजाने के लिए कहा।

जब डोली ने 500 रुपए मांगे तो उसे 200 रुपए ही दिए। ढोली ने उनसे पैसे मांगे तो उसके साथ अभद्र व्यवहार करने लगे। सूचना पर एएसआई वर्मा, प्रआ पवन, प्रआ राजेश और आरक्षक संदीप पहुंचे। आराेपी अयोध्या सिंह उसके जमाई राजेश्वर और विवेक ने उनसे गालीगलौज की और धक्का-मुक्की करने लगे। प्रआ पवन के साथ राजेश्वर ने मुक्के से मारपीट की और अयोध्या सिंह ने डंडे से हमला कर दिया। थाने पर सूचना दी गई।

पुलिस अधिकारी यशवंत योगी, सब इंस्पेक्टर हीना जोशी, केके चौहान मौके पर पहुंचे। समझाइश देने की कोशिश की आरोपी उझूमा-झटकी करने लगे। मंगलवार काे 165/21 धारा 353, 332, 294, 323, 34 भादंवि का दर्ज किया गया है। थाना प्रभारी चंद्रभान सिंह चढ़ार और सीएसपी तरुण सिंह बघेल ने बताया कि शासकीय कार्य में बाधा का प्रकरण दर्ज किया गया है। एक ढाेली की तरफ से और एक पुलिस अधिकारी अजय वर्मा की तरफ से ऐसे 2 प्रकरण दर्ज किए गए हैं। आरोपियों काे मंगलवार काे काेर्ट में न्यायालय में पेश किया गया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें