एक दिन पहले करें रक्तदान:टीकाकरण के बाद 75 दिन तक नहीं कर सकते रक्तदान

धार6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 45 साल से ऊपर वालों से संपर्क कर उन्हें तैयार कर रहे हैं ताकि रक्त की कमी नहीं रहे

1 मई से 18 वर्ष से अधिक आयु वाले सभी युवाओं का कोरोना वैक्सीनेशन होगा। जो भी व्यक्ति वैक्सीन लगवाएगा। शासन की गाइड लाइन के अनुसार वह कम से कम 75 दिन या लगभग 3 महीनों तक रक्तदान नहीं कर सकता। जिसके चलते रक्त की कमी भी आना निश्चित है।

खासतौर से थैलेसेमिया सिकल सेल बीमारी से ग्रसित बच्चाें का जीवन बचाने और गर्भवती महिलाओं के लिए समस्या हो सकती है। इसके चलते सभी युवाओं से धार स्वास्थ्य विभाग ने अपील की है कि वे कोरोना वैक्सीन लगवाने से 1 दिन पहले रक्तदान अवश्य करें। क्योंकि रक्त को 35 दिनों तक ही सुरक्षित रख सकते हैं। 45 से अधिक आयु वाले स्वस्थ्य लाेगाें से संपर्क किया है : जिला अस्पताल की ब्लॅड बैंक प्रभारी डॉ. अनिल वर्मा ने बताया कि रक्तकोष धार की तरफ से मैंने, जिले के युवाओं से अपील कर समझाइश दी। उनसे मिलकर 25 अप्रैल के बाद रक्तदान शिविरों का आयोजन करवाया। टीम ब्लॅड बैंक मंजू गुजराती, डाबर, आदित्य सोलंकी, पवन ड्राइवर, संदीप के अथक प्रयास से समुचित ब्लॅड एकत्रित करने की योजना बनाई है।

रक्तदान के लिए 45 साल से उपर के स्वस्थ रक्तदाताओं से संपर्क कर जून माह के लिए उन्हें तैयार कर रहे हैं ताकि रक्त की कमी न हाे। हमारे पड़ाेसी आदिवासी जिले झाबुआ को भी मदद की जा रही है। आज धामनाेद में विशाल रक्तदान शिविर लगेगा : डाॅ. अनिल वर्मा ने बताया कि इन्हीं बाताें काे ध्यान में रखकर 30 अप्रैल काे एक विशाल रक्तदान शिविर भी बालाजी मंदिर गार्डन धामनोद में आयाेजित किया जाएगा।

धार ब्लड बैंक, पूर्वनुमान लगाकर 25 अप्रैल से निरंतर कैंपों के माधयम से रक्त एकत्रित करने का कार्य कर रहा है। सुबह 10 से दाेपहर 2 बजे तक युवा यहां आकर रक्तदान कर सकते हैं। कोविड-19 के सुरक्षा नियम के तहत ही रक्तदान शिविर लगाया जाएगा।

एक वर्ष में 32 फील्ड कैंप लगाकर 5000 यूनिट एकत्रित किया
धार जिला अस्पताल के ब्लॅड बैंक ने एक वर्ष में 32 फील्ड कैंप लगाए। इसमें 5000 यूनिट रक्त एकत्रित किया गया। इसमें 2000 यूनिट थैलेसीमिया, सिकल सेल के मरीज और प्रसूता महिलाओं को रक्त देकर लाइफ सपोर्ट दिया। 600 यूनिट जिले के अन्य अस्पतालों को और 650 यूनिट एमवाय अस्पताल इंदौर और झाबुआ अस्पताल को भी इमरजेंसी में दिया।

खबरें और भी हैं...