फायदा / काेराेना के कारण शासन ने रजिस्ट्रियाें पर लगने वाली पंजीयन फीस में दी आधा प्रतिशत की छूट दी

X

  • मकान की रजिस्ट्री करानी है ताे 30 जून से पहले कराएं
  • पांच लाख पर हाेगा सीधे ढाई हजार रुपए का फायदा

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 06:32 AM IST

धार. अगर आपने किसी प्लॉट या फ्लैट का सौदा कर रखा है तो 30 जून तक उसकी रजिस्ट्री करा लें। इससे आपको पंजीयन फीस में कुछ फायदा हो जाएगा। प्रदेश शासन में कोरोना वायरस के चलते रजिस्ट्रियाें पर लगने वाली पंजीयन फीस में अाधा प्रतिशत की छूट दी है। अगर किसी प्लाट या मकान की कीमत 5 लाख रुपए है तो उसकी रजिस्ट्री में लगभग ढाई हजार रुपए का फायदा होगा। 

कोरोना संक्रमण के चलते देशभर में चल रहे लॉक डाउन से लोगों के निजी व्यापार धंधे तो प्रभावित हुए ही हैं। शासन का राजस्व भी प्रभावित हुआ है। राजस्व बढ़ाने के लिए प्रदेश शासन ने किसी भूमि भवन की रजिस्ट्री के दौरान लगने वाली पंजीयन फीस में लोगों को राहत दी है। बता दें कि यह पंजीयन फीस अभी तीन फीसदी थी। जिसे 17 मई से कम करते हुए 2.5 प्रतिशत कर दिया है।

जिला पंजीयन दीपक शर्मा ने बताया किसी भी प्लाॅट, फ्लैट, कृषि भूमि या भवन की कीमत 5 लाख रुपए तक है ताेे रजिस्ट्री पर ढाई हजार रुपए तक फायदा हाेगा। यानी पहले पांच लाख रुपए तक की प्रॉपर्टी खरीदी पर पंजीयन फीस 15 हजार रुपए लग रही थी। अब वह कम हाेकर 12 हजार 500 रुपए हाे गई है। जिला पंजीयक ने बताया की पूर्व में एक लाख रुपए की कीमत की भूमि खरीद पर क्रेता को 3 हजार रु. के स्टाम्प पंजीयन के लिए लगाने पड़ते हैं। शासन के नए आदेश के बाद अब उसे ढाई हजार रुपए के पंजीयन के लगाना पड़ेंगे।

1 जुलाई से लगभग 40 प्रतिशत की वृद्धि हाे जाएगी

जिला पंजीयक ने बताया अारसीसी के भवन, कार्यालय, दुकान व गाेदाम की कीमत गाइडलाइन मूल्य में 1 जुलाई से लगभग 40 प्रतिशत की वृद्धि हाेना है। ये दरें 1 जुलाई से लागू हाेंगी। एेसे में लाेग 30 जून तक दस्तावेजाें का पंजीयन करा लें।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना