पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बिजली समस्या:बिजली नहीं हाेने से तेल का दीपक जलाकर करना पड़ रहा है उजाला

राजगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राजगढ़. बिजली नहीं हाेने से दीपक जलाकर बनाना पड़ता है खाना। - Dainik Bhaskar
राजगढ़. बिजली नहीं हाेने से दीपक जलाकर बनाना पड़ता है खाना।
  • राजाेद, बरमंडल और संदला के 10 से अधिक मजरे टाेलाें में 6 घंटे ही मिल रही बिजली

सरदारपुर तहसील के गांव राजाेद, संदला व बरमंडल पंचायत के 10 से अधिक मजरे टाेलाें में फीडर सेपरेशन का काम नहीं हाेने से ग्रामीणाें काे 24 घंटे बिजली नहीं मिल रही है। कई जगह काम बंद हाेने से इन ग्रामीणाें काे सिंचाई फीडर से बिजली दी जा रही है। जिससे रात में तीन घंटे व दिन में तीन घंटे यानी कुल 6 घंटे बिजली मिलती। राजोद के कचनारिया के मजरे देवगढ़, राजघाटा, सलवा के मजरे छित्ररीपाड़ा में के रहवासी इससे खासे परेशान हैं। ग्रामीण नंदराम डामर, नानूराम भूरिया, ओंकार डामर, मानसिंह वसुनिया, भेरूलाल डामर, मोतीलाल डामर ने बताया हम जब से इन मजरे टोले में रह रहे है हमारे घरों में रात के समय अंधेरा ही रहता।

पूर्व में सरकार की याेजना के तहत फीडर सेपरेशन हाेना था लेकिन हमारे क्षेत्र में काम ही नहीं हुअा। सिंचाई फीडर की बिजली हाेने से रात में 11 से 2 बजे व दिन में सुबह 11 से 2 बजे बिजली मिलती है। अंधेरे में ही खाना बनाकर खाना पड़ता। बिजली व घासलेट के अभाव में 150 रु. कीमती साेयाबीन के तेल से दीपक जलाकर उजाला करना पड़ता। हमारे मोबाइल भी चार्ज नहीं कर पा रहे है।
स्वीकृति आना बाकी है
कुछ मजरे, टोले में ठेकेदारों ओर ग्रामीणों में आपसी मदभेद के चलते काम नहीं हुअा। हमने 10 माह पूर्व विभाग से योजना के लिए मांग की है। जिसकी स्वीकृति आना बाकी है। -नरेंद्र कुमार साक्या, सुपरवाइजर, बिजली कंपनी

खबरें और भी हैं...