• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Dhar
  • Grandfather And Father Took Out The Procession By Sitting On The Buggy, The People Of The Society Including The Family Danced Fiercely On The Sound Of The Drum

जुड़वा बेटियों के जन्म की खुशी:दादा और पिता ने बग्गी पर बैठाकर ढोल-नगाड़ों के मां और बेटी को घर लाए, रिद्धी-सिद्धी रखा बेटियों का नाम

धार7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जुड़वा बेटी पैदा होने पर बग्गी पर लेकर आए। - Dainik Bhaskar
जुड़वा बेटी पैदा होने पर बग्गी पर लेकर आए।

धार के कोणंदा गांव में दो जुड़वा बेटियों के जन्म पर परिवार के लोगों ने नगर में जुलूस निकाला। इस दौरान दोनों बच्चियों और मां को बग्गी में बैठी रहीं। परिवार के लोग बग्गी के सामने नाचते-झूमते रहे।

कोणंदा में रहने वाले मयूर भायल की पत्नी अपने पिता के घर दोगांवा गांव गई थी। यहां गणेश चतुर्थी के दिन दो जुड़वा बेटियों ने जन्म लिया। दोनों बेटियां गणेश चतुर्थी के दिन जन्मीं थी, इसलिए परिवार की सहमति से दोनों बच्चियों का नाम रिद्धि और सिद्धि रखा गया।

घर की बहू चार महीने बाद, बेटियों को लेकर महिला दोबारा ससुराल लौटने का निर्णय किया। परिवार के लोगों ने नाना के घर से बेटियों को दादा के घर भेजने के लिए बड़े धूमधाम से इंतजाम किया। गांव में माता मंदिर से डीजे और ढोल बाजे के साथ ग्रामीणों ने हर्षोल्लास के साथ रिद्धि सिद्धि का बड़े ही प्यार के साथ स्वागत किया। करीब दो किलो मीटर तक बच्चियों की खुशियों का जुलूस निकाला।

परिवार के मुखिया और बच्चियों के दादा मोहन भायल के सोच की गांव के लोगों ने भी प्रशंसा की। डेढ़ साल पहले मोहन ने अपने बेटे की शादी भी धूमधाम से की थी। शनिवार को उसी बहु ने दो प्यारी बेटियों को जन्म दिया था।