पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शहर विकास की अनदेखी:11 साल में बस स्टैंड, सब्जी मंडी व हाट बाजार में से एक भी प्रोजेक्ट पूरा नहीं कर पाई नपा

धार13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
इस तरह से धार के बस स्टैंड से निकलने में बसाें काे आती है परेशानी। - Dainik Bhaskar
इस तरह से धार के बस स्टैंड से निकलने में बसाें काे आती है परेशानी।
  • 12 जनवरी 2010 काे शासन ने नगर पालिका काे हैंडओवर किया था मास्टर प्लान, नहीं हुआ अमल
  • 15 काे बस स्टैंड विस्तार के लिए बैठक है प्रस्तावित
  • बस स्टैंड से 300 से अधिक बसें रोज चलती हैं, कई बार लगता है जाम

आज से ठीक 11 साल पहले 12 जनवरी 2010 काे शासन स्तर से शहर का मास्टर प्लान नगर पालिका काे साैंपा गया था। इस पर दावे-प्रतिदावे भी आमंत्रित किए गए थे। इन 11 साल में अभी तक बस स्टैंड, सब्जी मंडी और हाट बाजार पर अमल नहीं हाे पाया है। यह मास्टर प्लान 2021 की स्थिति काे ध्यान में रखकर बनाया गया था। हालांकि अभी तक मास्टर के मुताबिक बस स्टैंड, सब्जी मंडी और हाट बाजार पर अभी तक अमल नहीं हाे पाया है।

गाैरतलब है कि धार के बस स्टैंड से 300 से अधिक बसें प्रतिदिन विभिन्न रुट पर चलती हैं, इसमें अंतरराज्यीय बसें भी हैं। इन बसाें काे बस स्टैंड पर जाना अनिवार्य है, वहां तक पहुंचने और फिर से बाहर निकलने में आधा घंटे का समय अधिक लग जाता है। हालांकि नगर पालिका का दावा है कि बस स्टैंड काे लेकर जगह की समस्या हल हाे गई है, जल्द ही इस संबंध में बैठक कर आगामी याेजना पर तय की जाएगी।

मास्टर प्लान में ये काम हुआ
1. आदर्श रोड एवं मांडू-रतलाम रोड का चौड़ीकरण
2. घोड़ा चौपाटी का चौड़ीकरण-सौंदर्यीकरण
3. पुरानी नपा की शिफ्टिंग
4. ऑडिटोरियम निर्माण
5. लालबाग का नवीनीकरण
6. देवीजी सागर पाल चौड़ीकरण और तालाब गहरीकरण
7. श्मशान नवीनीकरण
8. जिला अस्पताल का नवीनीकरण
9. लेबड़ मानपुर बायपास
10. जेतपुरा नाैगांव बायपास
11. पीथमपुर तक रेलवे का काम
12. सब्जी मंडी का भक्तांमर तीर्थ के पास स्थानांतरण

मास्टर प्लान में ये काम होना है
1. बस स्टैंड निर्माण, 185 हाॅकर्स झोन वाली दुकानें, हाट बाजार स्थानांतरण
2. प्रथक एकीकृत ऑटो मार्किट निर्माण
3. राजा भोज समेत अन्य इतिहासकारों की मूर्ति का अनावरण
4. नगर में ट्रैफिक सुधार मसलन रोड चौड़ीकरण, यथा स्थान एकांकी मार्ग एवं पार्किंग बनवाना, सभी चौराहों का चौड़ीकरण, पेयजल वितरण या तो माही डेम से या नर्मदा नदी से

2010 के बाद नहीं हुआ एमओएस का पालन
अप्रैल 2010 के बाद नगर में जाे भी मकान और दुकान बने उसमें एमओएस मिनिमम ओपन स्पेस का पालन नहीं किया गया। न ताे मकान के आगे और पीछे की ओर न ही साइड में काेई जगह छाेड़ी गई है। जितने भी डामरीकरण हुए हैं उसमें जाे मार्ग हैं उसके चाैड़ीकरण के हिसाब से डामरीकरण नहीं किया है। दुकान और राेड के बीच में गड्ढे छाेड़ दिए हैं, उसका डामरीकरण नहीं किया है। इससे वाहन सड़क पर पार्क हाे रहे हैं।

बस स्टैंड काे यहीं रखेंगे, विस्तार हाेगा
बस स्टैंड काे वर्तमान स्थान पर ही यथावत रखा जाएगा। इसके आसपास पुलिस लाइन के पुराने जर्जर हाे चुके निवास काे हटाकर यहां जगह खाली कर बस स्टैंड का विस्तार करने की याेजना है। अधिकारियाें की मानें ताे इसकी स्वीकृति प्रशासन से मिल चुकी है। 15 जनवरी काे इस संबंध में कलेक्टाेरेट में अधिकारियाें की एक बैठक भी प्रस्तावित है।

2004 में तैयार किया था मास्टर प्लान का खाका

  • 2004 में मास्टर प्लान का प्रथम खाका शहर के डॉ. दीपक नाहर ने तैयार कर 2005 में सभी जनप्रतिनिधियों और प्रशासनिक अधिकारियों को
  • लिखित में दिया।
  • 2006 में तत्कालीन प्रभारी मंत्री कैलाश विजयवर्गीय को विकास परिचर्चा के दौरान इस मास्टर प्लान की एक प्रति दी, कैलाश विजयवर्गीय ने तात्कालिक कलेक्टर आरके गुप्ता को शासन स्तर पर मास्टर प्लान बनाने का आदेश दिया।
  • 2007 में नगर के सभी प्रतिनिधियों और गणमान्य नागरिकों को लेकर एक बैठक आयोजित की गई जिसमें टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग के इंदौर के अधिकारियों ने इस मास्टर प्लान पर जनता के सुझाव लिए।
  • 2009 में टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग ने नगर पालिका भवन में नवीन मास्टर प्लान की प्रदर्शनी लगाई और जनता के दावे और आपत्तियां ली।
  • 2010 में 12 जनवरी को टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग ने शासन स्तर पर मास्टर प्लान बनाकर नगर पालिका धार के तत्कालीन अध्यक्ष सीताराम शर्मा को पालन करवाने के लिए सौंपा, जिसका अनावरण इंदौर के सुरेश सेठ से करवाया गया।

यह मास्टर प्लान का उल्लंघन है
शहर के डाॅ. दीपक नाहर ने बताया कि मास्टर प्लान में मांडू राेड और सुनार खेड़ी फाटे पर बस स्टैंड प्रस्तावित थे। लेकिन वर्तमान में पट्ठा चाैपाटी के पास बने बस स्टैंड काे ही चाैड़ा करने की याेजना है। जाे कि मास्टर प्लान का उल्लंघन है। यहां बस स्टैंड हाेने से इंदाैर से लंबी दूरी पर जाने वाले यात्रियाें काे समय अधिक लग रहा है। शहर में यातायात का दबाव भी बढ़ा हुआ है, इससे मार्ग पर जाम की स्थिति बनती रहती है। माैजूदा बस स्टैंड सघन क्षेत्र में हाेने से प्रदूषण भी अधिक है। डाॅ. नाहर ने बताया कि मैंने अपने मास्टर प्लान में मिडिल स्कूल ग्राउंड पर बस स्टैंड सुझाया था। यहां दाेनाें हाईवे एक-दूसरे काे क्रास करते हैं। इसका फायदा यह हाेगा कि बसें बिना नगर की सघन आबादी में प्रवेश किए सीधे रतलाम, मांडू, इंदाैर, अहमदाबाद के लिए बाहर निकल जाएंगी।

जगह मिल गई है
बस स्टैंड के विस्तार के लिए जगह मिल गई है। इससे बस स्टैंड के लिए काफी जगह हाे जाएगी। बसाें काे खड़ी करने में भी परेशानी नहीं अाएगी। जगह की समस्या हल हाे गई है इसलिए बस स्टैंड यहीं रहेगा। सब्जी मंडी का निर्णय हाेना है। हाटबाजार का काम चल रहा है।
विजय कुमार शर्मा, सीएमओ धार

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप में काम करने की इच्छा शक्ति कम होगी, परंतु फिर भी जरूरी कामकाज आप समय पर पूरे कर लेंगे। किसी मांगलिक कार्य संबंधी व्यवस्था में आप व्यस्त रह सकते हैं। आपकी छवि में निखार आएगा। आप अपने अच...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser