• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Dhar
  • In Madhya Pradesh Gramin Bank, A Loan Of 96 Lakhs Got Fraudulently Done In The Name Of Kisan Credit Card, Case Registered

धोखाधड़ी के मामले में 19 लोगों पर FIR:ग्रामीण बैंक में किसान क्रेडिट कार्ड के नाम पर फर्जी तरीके से करवाया 96 लाख का लोन, शाखा प्रबंधक और 18 किसान आरोपी

धार10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मध्यप्रदेश ग्रामीण बैंक में 96 लाख से अधिक की धोखाधड़ी का मामले सामने आया है। यह धोखाधड़ी तत्कालीन शाखा प्रबंधक ने किसानों के साथ मिलकर की है। बैंक के अधिकारियों ने इस मामले में एक आवेदन पत्र देकर सरदारपुर एसडीओपी को शिकायत की थी। एसडीओपी ने राजगढ़ थाने में तत्कालीन शाखा प्रबंधक और 18 किसानों के खिलाफ प्रकरण दर्ज करवाया है।

धोखाधड़ी के लिए मुख्य आरोपी ग्रामीण बैंक शाखा राजगढ़ के तत्कालीन शाखा प्रबंधक कैलाशचंद्र आर्य निवासी उज्जैन को बताया गया है। आर्य ने साल 2015 में भानगढ़ के 18 किसानों के साथ मिलकर यह फ्रॉड किया था। उन्होंने किसान क्रेडिट कार्ड पर खाता-खसरा, नकल, फर्जी अभिलेख दस्तावेज के आधार धोखाधड़ी कर फर्जी ऋण के लिए फर्जी दस्तावेज और झूठी जानकारी बैंक में देकर लोन के लिए कुल 96 लाख 45 हजार रुपए स्वीकृत करवा लिया था।

आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज
एसडीओपी ने मामले की जांच के बाद राजगढ़ थाने में बैंक के तत्कालीन शाखा प्रबंधक कैलाशचंद्र आर्य निवासी उज्जैन के साथ तुलसीबाई, रामकिशन, नारायण कुमावत, पुंजीबाई कुमावत, राधेश्याम, देवबाई कुमावत, हिम्मतराम कुमावत, कालू भील, गणपत कुमावत, लक्ष्मण कुमावत, दिनेश कुमावत, हरीनारायण कुमावत, गेंदालाल कुमावत, बालू कुमावत, भूरीबाई कुमावत, धन्नालाल कुमावत, मोतिलाल, बाबूलाल के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

आवेदन के बाद जांच की गई है
सरदारपुर एसडीओपी आरएस मेड़ा ने बताया कि बैंक के अधिकारियों ने आवेदन दिया था। मामले की जांच की, जिसके बाद रविवार रात राजगढ़ थाने में मध्यप्रदेश ग्रामीण बैंक, शाखा राजगढ़, के तत्कालीन शाखा प्रबंधक के साथ ही 18 किसानों पर प्रकरण दर्ज करवाया है।

खबरें और भी हैं...