पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मालवा की वैष्णाे देवी:एक शिला पर दर्शन दे रहीं महाकाली, महालक्ष्मी व सरस्वती

दिगठानएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • यहां दर्शन करने आने वाले भक्ताें ने प्रतिमा में माता के तीन स्वरूप महसूस किए हैं

नवरात्रि में मां की आराधना की जा रही है। हम आपकाे जानकारी दे रहे हैं धार से करीब 25 किमी दूर दिगठान स्थित माता मंदिर की। मंदिर में स्थित माताओं को मालवा की वैष्णाे देवी कहा जाता है। क्याेंकि यहां एक ही शिला पर आदम कद में महाकाली, महालक्ष्मी व माता सरस्वती भक्ताें काे दर्शन दे रही है। जबकि कटरा स्थित वैष्णाेदेवी मंदिर में यही तीनों माताएं पिंडी स्वरूप में विराजमान हैं।

पुजारी चंचल चतुर्वेदी ने बताया संभवत: यह देश का पहला मंदिर जहां इन सब विशेषताओं के साथ तीनाें देवियां विराजमान हैं। यहां बड़ी संख्या में देशभर से भक्त पहुंचते हैं। कोरोना काल की वजह से इस बार भक्तों को सावधानियां बरतना पड़ रही है। यहां भी नियमों का पालन किया जा रहा है।

ये है मंदिर का इतिहास

किवदंती है कि दांगुल नदी में ग्रामीण विशाल शिला पर कपड़े धाेया करते थे। एक रात माता ने स्वप्न में बताया कि जिस शिला पर कपड़े धाेए जा रहे है वहां साक्षात माता तीन रूप में विराजमान हैं। माता का स्वप्न देखने वाले ग्रामीणाें ने यह बात जब गांव के मंडलाेई जागीरदार काे बताई ताे उन्हाेंने शिला काे पलटवाया। इसमें माता के ये तीन रूप निकले। तब से उसी शिला पर माता महाकाली, महालक्ष्मी व महासरस्वती आदमकद में रूप में भक्ताें काे दर्शन दे रही हैं।

राजस्थान के पत्थरों से बन रहा मंदिर : वर्तमान में यहां 5 कराेड़ रुपए की लागत से समग्र हिंदू समाज के सहयाेग से माता का भव्य मंदिर बनाया जा रहा है। मंदिर निर्माण समिति के दिनेश कुशवाह ने बताया मंदिर निर्माण में राजस्थानी पत्थराें का उपयाेग किया जा रहा है। लाॅकडाउन में 6 माह काम बंद रहा। अभी 25 से 30 प्रतिशत काम बचा है जाे 6 माह में पूरा हाे जाएगा। नवरात्रि में यहां शत चंडी पाठ चल रहा है। मंदिर पर फूल बंगला सजाया गया है। दूर-दूर से भक्त दर्शन काे पहुंच रहे हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज भविष्य को लेकर कुछ योजनाएं क्रियान्वित होंगी। ईश्वर के आशीर्वाद से आप उपलब्धियां भी हासिल कर लेंगे। अभी का किया हुआ परिश्रम आगे चलकर लाभ देगा। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे लोगों के ल...

और पढ़ें