चैत्र नवरात्र आज से:सर्वार्थ सिद्धि योग में अश्व पर सवार हाेकर आएंगी मां दुर्गा

धार8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शुभ याेग में हाेगा माता का पूजन, 13 काे गुड़ी पड़वा, मंत्री मंडल में शामिल होंगे छह ग्रह

चैत्र शुक्ल प्रतिपदा गुड़ी पड़वा 13 अप्रैल को मनाई जाएगी। इसके साथ ही नवरात्रि पर्व की शुरुआत होगी। इस वर्ष नव संवत्सर आनंद का आरंभ कई शुभ योगों में होगा। मंगलवार को सनातन नववर्ष आरंभ होने से वर्ष के राजा मंगल होंगे। साथ ही मंत्री मंडल में 6 महत्वपूर्ण ग्रह शामिल रहेंगे।
ज्याेतिष पं. अशाेक शास्त्री के अनुसार चैत्र नवरात्रि का समापन 21 अप्रैल राम नवमी पर होगा। इस बार मां नव दुर्गा अश्व पर सवार होकर आएंगी। साथ ही आनन्दादी अमृत योग, सर्वार्थ सिद्धि योग, अमृतसिद्धि योग सहित नवसंवत्सर आनंद की शुरुआत होगी, जो जीवन में यथार्थ को अनुभूत कराते हुए उतार-चढ़ाव के साथ उच्चतम लक्ष्य को प्राप्त काराएगा।
नवरात्रि के प्रथम दिन ग्रहों के अद्भुत संयोग से कुछ विशेष योग का निर्माण हो रहा है। प्रतिपदा की तिथि में विष्कुंभ और प्रीति योग का निर्माण हो रहा है। इस दिन विष्कुम्भ योग दोपहर बाद 3.17 बजे तक रहेगा। उसके बाद प्रीति योग का आरंभ होगा। वहीं करण बव सुबह 10.17 मिनट तक, बाद बालव रात 11.31 मिनट तक रहेगा।
ऐसी रहेगी ग्रहों की स्थिति..
नवरात्रि पर्व पर चंद्रमा मेष राशि में गोचर करेगा। इसके साथ ही सूर्य और बुध मीन राशि, राहु और मंगल वृषभ राशि, शुक्र मेष राशि, गुरू कुंभ राशि, शनिदेव मकर राशि और केतु वृश्चिक राशि में विराजमान रहेंगे।
घट स्थापना का शुभ मुहूर्त..

  • 13 अप्रैल मंगलवार
  • ब्रह्म मुहूर्त 04:36
  • 05:22 प्रात:
  • 09:18 से 10:53 चर
  • 10:53 से 12:28 लाभ
  • 12:28 से 02:02 अमृत
  • अभिजीत मुहूर्त : 11:36 बजे से 12:24 बजे तक
खबरें और भी हैं...