राहत की खबर / इंदौर-अहमदाबाद हाईवे पर नया केंद्र शुरू, यहां 16 मई से पहले के मैसेज वाले किसानों की उपज तौलेंगे

X

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 08:24 AM IST

धार. सप्ताहभर या उससे ज्यादा दिनाें से गेहूं की ट्राॅलियां लेकर उपार्जन केंद्र के बाहर खड़े किसानाें के लिए राहत की खबर है। प्रशासन ने ऐसे किसान जिनके मैसेज 16 मई या उससे पहले आए हैं, उनकी उपज तुलाई के लिए दूसरा केंद्र इंदाैर-अहमदाबाद हाईवे पर केंद्र शुरू कर दिया है। यह साेसायटी की रिक्त जमीन है, जहां तुलाई हाेगी। 

जिन किसानाें काे मैसेज 16 
मई के बाद मिले हैं उनकी उपज जेल राेड स्थित नाैगांव-देदला साेसायटी पर ही तुलेगी। शनिवार काे उपार्जन केंद्र पहुंचे डीएसओ (डिस्ट्रिक्ट सप्लायर ऑफिसर) आरसी मीणा ने किसानाें काे यह जानकारी दी। डीएसओ की इस बात पर किसानाें की सहमति मिलने के बाद वे प्रभारी यशवंतसिंह सिसाैदिया व प्रतिनिधि के रुप में एक किसान काे अपने साथ माैका मुआयना कराने ले गए। डीएसओ ने किसानाें काे बताया कलेक्टर श्रीकांत बनाेठ से नए केंद्र की स्वीकृति मिल चुकी है।

किसान बोले- प्रतिदिन सिर्फ 25 ट्रैक्टर ताैले जा रहे
उपज नहीं तुलने से नाराज किसान शनिवार सुबह 11.30 बजे किसान एडीएम शैलेंद्र साेलंकी से मिले। किसानाें ने एडीएम काे बताया कि उपार्जन केंद्र पर तुलाई की सही व्यवस्था नहीं है। समय पर परिवहन नहीं हाे रहा। इससे किसान अपनी उपज नहीं तुलवा पा रहे हैं। अभी प्रतिदिन सिर्फ 25 ट्रैक्टर ही ताैले जा रहे हैं, क्याेंकि प्रबंधन तुलाई के दाैरान ही परिवहन कर रहा है। शाम 6 बजते ही कर्मचारी घर चले जाते हैं। जबकि नियमानुसार खरीदी खत्म हाेने के बाद रात में परिवहन किया जाना चाहिए, लेकिन एेसा नहीं हाे रहा। किसानाें की समस्या सुनने के बाद एडीएम ने एसडीएम सत्यनारायण दर्राे काे फाेन कर माैके पर अधिकारीोकाे भेजने काे कहा। एसडीएम ने डीएसअाे मीणा काे माैके पर पहुंचाया। डीएसअाे ने उपार्जन केंद्र पहुंचकर किसानाें काे नया केंद्र खाेलने की जानकारी दी।

पुराने किसानाें काे फिर कर रहे मैसेज

 

डीएसओ ने बताया 1440 किसानाें की सूची शासन काे भेजी गई थी। शासन ने शनिवार काे कई पुराने किसानाें काे पुन: मैसेज किए हैं। सभी किसानाें का गेहूं खरीदा जाएगा। प्रबंधन ने डीएसओ काे जानकारी दी कि उपार्जन केंद्र के बाहर 16 मई से पहले वाले ट्रैक्टर 100 के करीब व 18 मई के बाद जिन्हें मैसेज मिले हैं एेसे 40 से 70 ट्रैक्टर हैं। अतिरिक्त केंद्र का निर्णय हाेते ही 16 मई से पहले अाए किसानाें काे वहां भेज दिया गया। डीएसओ ने बताया वहां पानी की भी व्यवस्था की है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना