पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

तेंदुए का आतंक:एक सप्ताह से तेंदुए की नहीं मिली कोई मूवमेंट, इंदाैर की रेस्क्यू टीम वापस लाैटी

धार2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गनियारा में 18 दिन पहले किया था तेंदुए ने बालिका का शिकार
  • दशहत में दस गांव, तेंदुए के इंतजार में सिर्फ पिंजरा

25 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में फैले सरदारपुर वन रेंज के करीब दस गांवाें में अब भी तेंदुए की दहशत बरकरार है। वन विभाग काे भी एक सप्ताह से तेंदुए की काेई मूवमेंट नहीं मिल पाई है। इंदाैर की रेस्क्यू टीम लाैट चुकी है, इसके बाद से ही तेंदुए की सर्चिंग भी लगभग बंद है।

गनियारा में एक पिंजरा रखकर तेंदुए के आने का इंतजार किया जा रहा है। इन गांवाें के लाेग रात में न ताे खेताें पर जा पा रहे हैं और न ही बाहर निकल पा रहे हैं। रात में थाेड़ी ही आहट भी तेंदुए का भ्रम करा देती है। सरदापुर रेंज में करीब पांच तेंदुए हाेने का अनुमान है। गाैरतलब है कि अमझेरा के गनियारा में तेंदुआ घर के बाहर साे रही बालिका काे उठा ले गया था। बालिका की माैत हाे गई थी।

इन गांवाें में हैं तेंदुए का भय

अमझेरा, तिरला से लगे वन क्षेत्र के आसपास के मजरे कुंडीखेड़ा, नयापुरा, सेमलीपुरा, नीम फलिया, जलाेखिया, खारचा, चूनाभट्टी, सुल्तानपुर, खाेखडिया माल, आंबापुरा, अंबाझिरी, झिकयाबर्दी, मछलाई, मालगढ़, बिजलपुर, गाेलपुरापाडा, गूंगीदेवी, रूखीबावड़ी और सुल्तानपुर में रात के समय तेंदुए का भय है। मजदूर खेताें में जाने से डरने लगे हैं। बूंदीखेड़ा-नयापुरा में पखवाड़े पहले तेंदुए को दो बार देखा गया। यहां एक कुत्ते को खा गया था।

डर ऐसा: समूह में जाते हैं खेतों पर, लट्ठ भी रखते हैं

सुल्तानपुर के विनोद मुकाती का कहना है कि उनका 100 बीघा का खेत है, 2-3 माेटरें 24 घंटे चलानी चलाना पड़ती है। गिरधारी व अन्य किसानाें का कहना है कि तेंदुए के डर के मारे हमारे खेताें पर काम करने मजदूरों ने रात में आने से इनकार कर दिया। अभी खेताें में गेहूं और चने की फसल के लिए सिंचाई का काम चल रहा है। समूह बनाकर ही ग्रामीण खेतों पर जा पा रहे हैं। डर है तेंदुआ हमला कर देगा।

सीधी बात: संताेष रणछाेरे, एसडीओएफ

18 दिन, नहीं पकड़ में आया तेंदुआ

तेंदुए काे पकड़ने के लिए क्या याेजना है?
-गिनयारा और नयापुरा में पिंजरा रखा है।

तेंदुए की वर्तमान में लाेकेशन कहां ट्रेस हुई है?
-एक सप्ताह से उसके काेई पगमार्क नहीं मिले हैं, न ही किसी ने सूचना दी है।

शिकार करने के बाद वह क्षेत्र में हैं या दूर चला गया है?
-वह 25 किमी तक जा सकता है। ऐसा नहीं कह सकते कि वे दूर चला गया है।

क्या कारण है वह अभी तक लाैटकर नहीं आया?
- यदि उसे भाेजन मिल जाता है ताे वह लाैटकर नहीं आता है, लेकिन आ सकता है।

ग्रामीणाें की सुरक्षा के लिए क्या इंतजाम हैं?

- हम लगातार उसकी सर्चिंग कर रहे हैं। ग्रामीण बिना सुरक्षा के बाहर न निकले, समूह में ही जाए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- दिन उत्तम व्यतीत होगा। खुद को समर्थ और ऊर्जावान महसूस करेंगे। अपने पारिवारिक दायित्वों का बखूबी निर्वहन करने में सक्षम रहेंगे। आप कुछ ऐसे कार्य भी करेंगे जिससे आपकी रचनात्मकता सामने आएगी। घर ...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser