पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्रेमी डॉक्टर बनते ही बेवफा हो गया:प्रेमिका ने 10 साल में प्रेमी पर 46 लाख खर्च किए, उसे MBBS कराया, लोन पर कार दिलाई; डाॅक्टर बनते ही उसने दूसरी लड़की से शादी की, अब प्रेमिका ने की FIR

धार/धरमपुरी16 दिन पहले
आरोपी डॉक्टर दिलीप ठाकुर।

मध्य प्रदेश के धार में प्यार और बेवफाई का एक अजब मामला सामने आया है। एक युवती ने अपने प्रेमी का 10 साल तक हर तरीके से ख्याल रखा। MBBS और PG की पढ़ाई तक का पूरा खर्च उठाया। उसका पक्का मकान बनवाया, बाइक भी दिलाई। प्रेमी के डॉक्टर बनते ही लोन पर कार भी दिलाई, लेकिन अपने पैरों पर खड़ा होते ही प्रेमी डॉक्टर ने दूसरी शादी कर ली। अब प्रेमिका टीचर ने अपने प्रेमी के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया है। प्रेमिका का दावा है कि उसने आरोपी की 10 साल की पढ़ाई के अलावा उसपर कुल 46 लाख रुपए खर्च किए।

युवती बचपन से करती थी प्यार

यह दोस्ती, प्यार और धोखे की कहानी धार जिले के धरमपुरी के एक गांव की है। दोनों एक साथ स्कूल में पढ़े और पढ़ाई में अव्वल थे। युवती 2009 में टीचर बन गई। लड़का डाॅक्टर बनना चाहता था, लेकिन घर की आर्थिक स्थिति खराब थी। गांव में टपरीनुमा मकान था। एक ही समाज के होने के कारण लड़की के घर लड़के का आना-जाना था। दोनों एक दूसरे को पसंद करते थे। घरवाले भी राजी थे, लेकिन उसने धोखा दिया। अब पीड़िता की रिपोर्ट पर डाॅक्टर आरोपी के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। आराेपी डाॅक्टर फरार है।

21 जून 2021 को बिना बताए आरोपी डॉक्टर ने किसी और लड़की से शादी कर ली।
21 जून 2021 को बिना बताए आरोपी डॉक्टर ने किसी और लड़की से शादी कर ली।

धोखे की कहानी युवती की जुबानी

दिलीप मेरे पड़ोस में रहता था। वह पढ़ने के लिए आया था। हम दोनों एक ही स्कूल में पढ़ते थे। जान-पहचान से आगे बढ़कर हम एक-दूसरे को पसंद करने लगे। दिलीप मुझसे शादी करना चाहता था। उसने नौकरी लगने के बाद शादी करने की बात कही थी। मैंने 2009 से शासकीय सेवा में बतौर टीचर के पद पर जॉइन कर लिया। मैं चाहती थी कि वह पढ़-लिखकर कुछ बन जाए, इसलिए उसकी पढ़ाई का पूरा खर्च उठाया। यहां तक कि उसका घर भी अपनी सैलेरी से बनवाया। बाइक और कार तक दिलाई। डाॅक्टर ने शादी की बात कहकर मेरे साथ पिछले 10 वर्षो में कई बार शारीरिक संबंध बनाए। मेरे माता-पिता को भी नौकरी लगते ही शादी करने का भरोसा दिलवाता था। 2017 को कोर्स पूरा होने के बाद दिलीप सेंधवा के निजी करूणा अस्पताल में नौकरी करने लगा। धीरे-धीरे बात करना कम कर दी और शादी से मना कर दिया। 21 जून 2021 को बिना बताए उसने किसी और लड़की से शादी कर ली। इसकी जानकारी आरोपी के मामा से मिली। पीड़िता के मुताबिक आरोपी ने 2010 से 2019 तक शादी का झांसा देकर उससे कई बार दुष्कर्म किया। पीड़िता अब आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा के साथ मेडिकल काउंसिल से प्रमाण पत्र रद्द करवाना चाहती है।

​​​​​​पीड़िता ने 10 लाख का मकान भी बनवाया
पीड़िता ने बताया कि जब हम दोनों के परिजन शादी के लिए राजी थे, तो मैंने अपनी नौकरी से मिलने वाले वेतन से जामन्या स्थित गांव में दिलीप का पक्का मकान बनवाया। इसके लिए मैंने करीब 8 से 10 लाख खर्च किए। एमबीबीएस और पीजी की फीस और अन्य खर्च करीब 25 लाख किए। करीब 1 लाख की बाइक खरीद कर दी। इसी के साथ दिलीप ने मुझसे कार की बात कही तो करीब 10 लाख रुपए की कार मैंने लोन लेकर दिलवाई, जिसकी किस्तें आज भी मेरे खाते से कट रही हैं।

आरोपी की तलाश जारी है

दुष्कर्म के आरोपी डाॅक्टर की तलाश जारी है। सेंधवा से फरार है। आरोपी की गिरफ्तारी के लिए भरसक प्रयास किए जा रहे हैं। शीघ्र ही आरोपी को गिरफ्तार करेंगे। - लोकेशसिंह भदौरिया, थाना प्रभारी धरमपुरी

खबरें और भी हैं...