सेना का मनाेबल बढ़ा / असम से लगी भारत-चीन सीमा पर शांति, केंद्र सरकार के निर्णय से सेना में उत्साह

Peace along the Indo-China border with Assam, the decision of the central government gives a boost to the army
X
Peace along the Indo-China border with Assam, the decision of the central government gives a boost to the army

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 07:32 AM IST

धार. भारत-चीन विवाद के बीच सरकार के टिकटाॅक, शेयरइट सहित 59 चीनी माेबाइल एप पर प्रतिबंध लगाने की चर्चा भारत-चीन सीमा पर भी है। केंद्र सरकार के इस निर्णय से भारतीय सेना में उत्साह है। इससे सेना का मनाेबल भी बढ़ा है। क्याेंकि चीन झड़प में हमने कई सैनिक साथी खाेए हैं। 
यह कहना है धार तहसील के पिपलीमाल गांव के सैनिक भूपेंद्र जाट का। भूपेंद्र वर्तमान में असम रेजिमेंट में पदस्थ हाेकर असम से लगी भारत-चीन सीमा पर तैनात है। भूपेंद्र ने बताया कि वे जहां तैनात है वहां शांतिपूर्ण माहाैल है, लेकिन चीन से जुड़ी देश की बाकी सीमाअाें पर तनाव के चलते हमें भी चाैकन्ना रहना पड़ता है। घर वालाें से बात हाेती है, उन्हें चिंता ताे है, लेकिन गर्व भी है कि बेटा बाॅर्डर पर सेवा दे रहा है। भूपेंद्र 11 साल से सेना में हैं। छाेटा भाई संजय भी सेना में ही है। वह बारामुला में पदस्थ है। उनके पिता बलराम जाट भी सेना से रिटायर हुए हैं।  
भाई की शादी में नहीं अा पाए थे भूपेंद्र : मार्च में भूपेंद्र के भाई की शादी थी। लाॅकडाउन की वजह से वे नहीं पहुंच पाए। भूपेंद्र ने कहा-अभी देश की रक्षा करना जरूरी है। दूसरी बात अगर सफर करके अाता भी हूं ताे संक्रमण का खतरा रहेगा। इसलिए स्थिति सामान्य हाेने के बाद ही अाऊंगा। भूपेंद्र अाखिरी बार दिसंबर में घर अाए थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना