• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Dhar
  • Police Said Sent Money From The Deceased And Sent It To His Maternal Home, Used To Beat Him For Refusing, Hanged Himself In Trouble

पत्नी पीड़ित पति ने की आत्महत्या:धार में कर्मचारी ने सुसाइड नोट में लिखा- पत्नी पैसे छीनकर मां-बाप को देती है, मना करने पर भाइयों संग पीटती है

धार9 महीने पहले

धार में युवक की आत्महत्या मामले में पुलिस ने सुसाइड नोट मिलने के बाद उसकी पत्नी और सालों समेत 5 पर मामला दर्ज कर लिया है। नोट में मृतक ने पत्नी पर मारपीट करने के साथ ही पैसे छीनने का आरोप लगाया। युवक ने सुसाइड नोट में लिखा..

हर बार मेरी पत्नी रुपए लेकर मेरे सास-सुसर को दे देती है। मेरे मना करने के बाद वह मुझे मारती है और भाग जाती है। मैं मप्र वेयर हाउस में सर्विस करता हूं। मुझे 22 हजार से ऊपर वेतन मिलता है। मेरा एटीएम नंबर **** है, जो कि मेरे पास है। यह एटीएम पुलिस-प्रशासन द्वारा गोरती जी को दिया जाए, ताकि मेरे बच्चों का भविष्य बन सके। एक हजार रुपए मेरे पर्स में हैं...धन्यवाद दीपक

यह है पूरा मामला
वेयर हाउस के सरकारी क्वार्टर में रहने वाले 35 साल के दीपक वसुनिया ने रविवार 20 मार्च को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। जांच के दौरान पुलिस ने मृतक की जेब से दो पेज का सुसाइड नोट बरामद किया, जिसमें उसने खुद को पत्नी से प्रताड़ित बताया। साथ ही पत्नी के भाइयों पर भी मारपीट करने का आरोप लगाया। इसी के आधार पर पुलिस ने मृतक की पत्नी समेत पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

पुलिस ने पत्नी सहित उसके भाइयों पर केस दर्ज किया है।
पुलिस ने पत्नी सहित उसके भाइयों पर केस दर्ज किया है।

पत्नी करती थी मारपीट

पुलिस ने सुसाइड नोट को आधार बनाते हुए परिजनों को बयान के लिए बुलाया, जिसमें दीपक के भाई शंकर ने बताया कि भाई की सैलरी जबरन उसकी पत्नी अपने माता-पिता को देती थी। भाई मना करता तो वह अपने भाइयों के साथ मिलकर उसे पीटती और खाना भी नहीं देती थी।

सालों ने झूठा केस करवाया

शंकर के मुताबिक भाई के सालों ने झाबुआ थाने में उसके खिलाफ मारपीट करने का झूठा आरोप लगाकर केस दर्ज करवाया था, जिसके कारण ही उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। टीआई समीर पाटीदार का कहना है कि सुसाइड नोट और बयान को आधार बनाकर दो दिन की जांच के बाद मंगलवार को पत्नी टीना, पांगली, मिक्खु, अजय और रवि के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

खबरें और भी हैं...