नियमों की अनदेखी / सड़क निर्माता कंपनी तालाब में ब्लास्ट कर निकाल रही मुरम, मकानाें और स्कूल की दीवार में आए क्रेक

Road construction company blasting in pond, cracking muram, houses and school walls
X
Road construction company blasting in pond, cracking muram, houses and school walls

  • ठेकेदार बिना अनुमति कर रहा खुदाई, पंचायत ने रुकवाया काम, एसडीएम बोले- जांच कर करेंगे कार्रवाई

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 06:34 AM IST

केसूर. सादलपुर के खोखरिया तालाब में पिछले कुछ दिनाें से ब्लास्टिंग कर मुरम निकाली जा रही है। इससे सादलपुर के मकानाें में कंपन हुआ, साथ ही कई घराें की दीवाराें में दरारें आ गईं।
शुक्रवार को भी केसूर-सादलपुर मार्ग का निर्माण करने वाली कंपनी द्वारा ब्लास्टिंग की जा रही थी। ग्रामीणों ने खोखरिया तालाब पहुंच कर ब्लास्टिंग का काम रुकवाया। ग्रामीणों का आरोप है कि यहां बेहद ही हैवी ब्लास्टिंग की जा रही है। जो नियम विरुद्ध है। सादलपुर सरपंच गजेंद्र सोनगरा ने धार एसडीएम को आवेदन देकर उचित कार्रवाई की मांग की है।

आक्रोशित ग्रामीणों का आरोप था कि अफसरों की मिलीभगत से सादलपुर व आसपास में रहने वाली जनता की सुरक्षा और नियम कायदों को दरकिनार कर नगर के करीब स्थित खोखरिया तालाब में ब्लास्टिंग करवाई जा रही है। जबकि यह तालाब निस्तार तालाब है। बावजूद इस तालाब में कैसे ब्लास्टिंग की परमिशन दी गई है। हालात यह है कि 20 फीट गहरा कर ब्लास्टिंग की जा रही है जिससे कि पत्थर दूर तक उड़ रहे हैं। सादलपुर के मकान भी दहलने लगे हैं। 

लोगों को लगता है जैसे कोई भूकंप आ गया हो और वे घरों के बाहर आ जाते हैं। ग्राम के राजेश सोलंकी ने बताया घर के सामने पानी की टंकी बनी हुई है। कंपन हाेने से हादसे की आशंका बनी रहती है। कई लोगों के घरों के ट्यूबवेल में मोटर भी फंस गई है।

ब्लास्टिंग से खिड़कियाें के ग्लास भी टूटे
स्कूल के प्रबंधक राजेश पाटीदार ने बताया ब्लास्टिंग के चलते स्कूल की खिड़कियों के ग्लास फूट चुके हैं। दीवारों पर लगी महापुरुषों की तस्वीरें भी गिरकर टूट गई हैं। दीवाराें में भी दरारें आ गई। सादलपुर के कई घरों में दरारें आई हैं। लगातार हो रही ब्लास्टिंग से शुक्रवार को ग्रामीणाें का गुस्सा फूट पड़ा और बड़ी संख्या में ग्रामीण खोखरिया तालाब पहुंच गए। जहां ब्लास्टिंग करने वाले कर्मचारियों को खरी-खोटी सुनाते हुए काम बंद करवा दिया। मामले को लेकर सरपंच गजेंद्र सोनगरा ने धार एसडीएम से मुलाकात कर उचित कार्रवाई करने के लिए आवेदन भी दिया है। जिसमें ब्लास्टिंग बंद करवाने व ठेकेदार पर कार्रवाई की मांग की है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना