• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Dhar
  • Sonali Khandelwal's Composition 'Do Kadam Hi Saath Chalo O Sanam'; Don't Be Afraid Of The Storms Of Time, You Will Pass By A Gust Of Wind...

BHASKAR कला-साहित्य मंच:सोनाली खंडेलवाल की रचना 'दो कदम ही साथ चलो ओ सनम'; ...वक्त के तूफानों से ना घबराना तुम,एक हवा के झोंके से गुजर जाएंगे...

धार3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दो कदम ही साथ चलो ओ सनम

दिल के समंदर को पार कर जाएंगे।

गर दोगे साथ मंजिल तलक

फलक पर आशियाना बनाएंगे हम।

दो कदम ही साथ चलो ओ सनम

दिल के समंदर को पार कर जाएंगे।

वक्त के तूफानों से ना घबराना तुम

एक हवा के झोंके से गुजर जाएंगे।

हो हाथ में हाथ गर तुम्हारा सनम

भवंर से भी कश्ती बचा लाएंगे।

दो कदम ही साथ चलो ओ सनम

दिल के समंदर को पार कर जाएंगे।

रास्तों के अंधेरे मिटा देंगे हम

गर चांद सितारा जो बन जाएंगे।

ना कोई जुस्तजू दिल की मेरे सनम

प्यार का एक दिया हम जला जाएंगे।

दो कदम ही साथ चलो ओ सनम

दिल के समंदर को पार कर जाएंगे।

खबरें और भी हैं...