पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Dhar
  • Tehsil Office Should Be Built In Sagaur So That Farmers Of More Than 213 Villages Do Not Have To Go 10 Km Away

मांग:सागौर में बनाया जाए तहसील कार्यालय ताकि 213 से ज्यादा गांवों के किसानों को 10 किमी दूर नहीं जाना पड़े

सागौर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • तहसील कार्यालय सागौर आने से गांव के विकास को राह मिलेगी, यहां सरकारी जमीन की भी परेशानी नहीं आएगी

पीथमपुर तहसील कार्यालय सागौर में बनाया जाए तो सागौर सहित आसपास के 213 गांवों के किसानों को खसरे-खाते की नकल सहित जमीन से जुड़े कामों के लिए 10 किमी से ज्यादा दूर पीथमपुर तक नहीं जाना पड़ेगा। इस मांग को लेकर जिला ग्राहक पंचायत ने आंदोलन की तैयारी भी शुरू कर दी है। पीथमपुर के 2018 में तहसील बनने के बाद शुरू में कुटी चौराहा पर स्थित पटवारी कार्यालय में तहसील कार्यालय लगाया गया था। इससे सागौर सहित आसपास के सभी गांवों के लोगों को तहसील से जुड़े काम के लिए आसानी रहती थी लेकिन अब इस कार्यालय को पीथमपुर के सेक्टर एक पहाड़ी पर स्थित औद्योगिक विकास में शिफ्ट कर दिया गया है। इससे सागौर के किसानों को 10 किमी दूर स्थित इस कार्यालय जाकर जमीन से जुड़े काम करवाने पड़ रहे हैं वहीं सागौर के आसपास के 213 गांवों के रहवासियों कोे तो तहसील कार्यालय पहुंचने के लिए 12 से 15 किमी लंबी दूरी तय करना पड़ रही है।

कार्यालय नहीं बना तो जनांदोलन किया जाएगा

जिला ग्राहक पंचायत के जिला सचिव राजेश चौधरी, राजेश गोस्वामी ने बताया कि पीथमपुर में 2018 से तहसील कार्यालय दूसरे विभागों के भवनों में ही चल रहा है। वहां सरकारी जमीन की व्यवस्था नहीं होने से ही तहसील कार्यालय नहीं बन पा रहा है। आगे की यही समस्या रहेगी इसलिए सागौर में तहसील कार्यालय बनाए जाए तो प्रशासन को भी सरकारी जमीन तलाशने में दिक्कत नहीं आएगी वहीं सागौर में तहसील कार्यालय बनने से क्षेत्र किसानों को जमीन से जुड़े काम के लिए लंबी दूरी तय नहीं करना पड़ेगी। जहां अभी तहसील कार्यालय हैं वहीं महज दो कमरे ही है और एेसे में अधिकारियों-कर्मचारियों को जगह की कमी का भी सामना करना पड़ रहा है। चौधरी ने बताया यदि सागौर में तहसील कार्यालय नहीं बनाया गया तो सागौर व आसपास के ग्रामीण क्षेत्र के लोग मिलकर आंदोलन करेंगे।

सागौर में आसानी से मिल सकती है जमीन
2000 में 14 गांवो की 9 पंचायतों को मिलाकर नगर पालिका का गठन किया गया था। इसमें सबसे बड़ी ग्राम पंचायत सागौर है। उद्यौगों में पीथमपुर सहित आसपास के सभी गांवों की भूमि उद्योगों में चली गई है। अब मात्र धन्नड़, अकोलिया, बरदरी, चिराखान गांवों में ही सरकारी जमीन है। इससे पीथमपुर क्षेत्र में तहसील कार्यालय के सरकारी जमीन मिलन में दिक्कत आएगी वहीं सागौर में पर्याप्त सरकारी जमीन है जहां तहसील कार्यालय बनाया जा सकता है।
सभी तरह की मांग पर विचार किया जाएगा
सागौर में तहसील कार्यालय बनाने की मांग आई है। पीथमपुर व आसपास तहसील कार्यालय के जमीन की तलाश की जा रही है। जिला प्रशासन की सहमति से जल्द ही इसके निर्माण का निर्णय लिया जाएगा।
एसएन दर्रो, एसडीएम

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि के लिए ग्रह गोचर बेहतरीन परिस्थितियां तैयार कर रहा है। आप अपने अंदर अद्भुत ऊर्जा व आत्मविश्वास महसूस करेंगे। तथा आपकी कार्य क्षमता में भी इजाफा होगा। युवा वर्ग को भी कोई मन मुताबिक क...

और पढ़ें