पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

समस्या:अफसराें ने भी माना डीएमआर एक शेडाे खाता, इसमें एनईएफटी, आरटीजीएस से नहीं जमा हाे सकते रुपए

धार2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मुख्यमंत्री ने वन क्लिक के माध्यम से 1 लाख किसानाें के खातों में डाली थी राशि, हकीकत-कई किसान को नहीं मिली

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ सीएम शिवराज सिंह चौहान ने 18 सितंबर काे उज्जैन जिले से सिंगल क्लिक के माध्यम से किसानाें के खाताें में ट्रांजेक्शन किया था। इसमें जिले के 1 लाख 5161 किसानाें को लगभग 195.47 करोड़ रु. योजनांतर्गत खरीफ 2019 की दावा राशि मिलना थी। लेकिन दाे माह से अधिक समय बाद भी कई किसानाें काे राशि नहीं मिली हैं।

जिला सहकारी केंद्रीय बैंक में डीएमआर खाते (स्थानीय लेवल का ऋण खाता) से यह राशि काटी थी। लेकिन इसमें बीमा कंपनी से राशि डालने पर यह राशि रिवर्ड हाे गई थी। जाे फिर से नहीं डली। राष्ट्रीयकृत बैकाें में भी नाम व खाता नंबर की त्रुटी के चलते कई किसानाें काे राशि नहीं मिली। सीएम हेल्पलाइन पर हुई शिकायत के बाद अफसराें ने माना है कि डीएमआर खाता एक शेडाें खाता हाेकर इसमें एनईएफटी, आरटीजीएस से राशि जमा नहीं हाे सकती। अब बीमा कंपनी से राशि मिलने के बाद किसानाें के खाताें में जमा की जाएगी।

कलसाड़ा बुजुर्ग के किसान मुकेश मुकाती ने बताया पिताजी बालमुकुंद मुकाती के नाम से 16 हजार की राशि जिला सहकारी केंद्रीय बैंक धार में आना थी। 18 सितंबर काे खाते में राशि आने व यूटीआर नंबर का मैसेज आया। जब बैंक में पता किया ताे राशि खाते में जमा नहीं हाेकर रिवर्ड हाे गई। अब तक राशि नहीं आने से बैंक व अधिकारियाें के चक्कर काटना पड़ रहे।

सीएम हेल्पलाइन पर शिकायत करने पर अफसराें ने उसमें तर्क दिया कि जिला सहकारी बैंक का खाता एक शेडाें खाता हाेकर इसमें एनईएफटी, आरटीजीएस से राशि जमा नहीं हाे सकती। इसी गांव के अरूण सत्यानारायण का खाता भी इसी बैंक में हाेकर राशि नहीं मिली। अरूण ने बताया कृषि मंत्री कमल पटेल द्वारा किसानाें की सुविधा के लिए बनाए कमल सुविधा पाेर्टल व सीएम हेल्प लाइन पर शिकायत की लेकिन निराकरण नहीं हुआ।

राष्ट्रीयकृत बैंक के किसान जगदीश ठाकुर कलसाड़ा और शाेभाराम नंदा ताेरनाेद के खाते में भी राशि जमा नहीं हुई। बैंक अधिकारी बीमा कंपनी से राशि नहीं मिलना बता रहे। कृषि विभाग के अनुसार फसल बीमा राशि नहीं मिलने संबंधी अब तक लगभग 300 शिकायतें आने पर निराकरण किया जा रहा है। वैसे कई किसानाें के खाताें में राशि जमा हाेने का दावा किया जा रहा।

79 हजार किसानाें का बीमा जिला सहकारी बैंक से हुआ

जिला सहकारी बैंक के बीमा विभाग के अनुसार 2019 में 79 हजार किसानाें का खरीफ फसल के लिए बीमा किया था। इसमें बीमा कंपनी से 2446 किसानाें की सूची देकर 4 कराेड़ 27 लाख रु. स्वीकृत किए थे। इसमें से 522 किसानाें के खाताें में राशि जमा हाेकर 1924 किसानाें की एनईएफटी फेल हुई थी।

उसमें से 1237 किसानाें के लिए 2 कराेड़ 92 लाख रु. मिलने पर बाद में डाला। अब शेष 687 किसानाें के लिए 85.51 लाख रु. बीमा कंपनी से लेना हैं। इसके लिए वरिष्ठ कार्यालय में बात चल रही है। दिसंबर के पहले सप्ताह के पूर्व राशि मिलने की बात कही जा रही हैं।

किसान इस लिंक से चेक कर सकते है अपना स्टेट्स

किसान इंटरनेट पर agri.iffcotokio.co.in पर लागिन कर प्रदेश व जिले का चुनाव कर बैंक खाता नंबर के अनुसार अपने खाते से संबंधी स्टेट्स चेक कर सकते है। इसमें बीमा राशि व अभी क्या प्रक्रिया चल रही है इसकी जानकारी मिलेगी।

सूची भेजी जा चुकी, अब राशि आना शुरू हाेगी

जिले काे 195 कराेड़ की राशि स्वीकृत हुई थी। इसमें से 143 कराेड़ की राशि खाताें में जमा की जा चुकी हैं। शेष किसानाें के नाम, रकबा व दाे बार नाम आने से इसकी सूची बैंकाें की तरफ से क्लीयर कर भाेपाल भेजी जा चुकी है। बची हुई राशि भी अब आना शुरू हाे जाएगी।

-आलाेक कुमार सिंह, कलेक्टर, धार

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप में काम करने की इच्छा शक्ति कम होगी, परंतु फिर भी जरूरी कामकाज आप समय पर पूरे कर लेंगे। किसी मांगलिक कार्य संबंधी व्यवस्था में आप व्यस्त रह सकते हैं। आपकी छवि में निखार आएगा। आप अपने अच...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser