पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • The Woman Pleads With The Minister, Get Some Work, The Answer Is Not In My Pocket

बिगड़े बाेल:महिला की मंत्री से गुहार, कहीं काम दिला दो, जवाब मिला राेजगार मेरी जेब में नहीं है

धार12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रोजगार की मांग करने पर मंत्री ने जेब पर हाथ रखकर बताया। रोजगार मेरे जेब में नहीं है।
  • अन्न उत्सव कार्यक्रम से निकले मंत्री दत्तीगांव काे राेककर महिला ने बेरोजगार होने की कही थी बात
  • मंत्री से बोली महिला-कोरोना की वजह से छिन गया है हमारा रोजगार

काेराेनाकाल में बेराेजगाराें काे राेजगार से जाेड़ने का दावा करने वाली भाजपा सरकार अपना वादा पूरा करेगी या नहीं इसकी बानगी शिवराज सरकार में उद्याेग मंत्री राजवर्धनसिंह दत्तीगांव के विवादित बाेल बता रहे हैं। बुधवार काे अन्न उत्सव के तहत जेतपुरा स्थित भारतीय खेल प्राधिकरण में हितग्राहियाें काे पात्रता पर्ची वितरण समाराेह हुआ। कार्यक्रम समाप्त हाेने के बाद मंत्री कार्यक्रम हाॅल से बाहर निकलकर गाड़ी तक पहुंचे थे कि यहां उन्हंे दीनदयालपुरम की महिला ने राेक लिया। महिला ने मंत्री से राेजगार की गुहार लगाते हुए कहा- काेराेना की वजह से राेजगार छीन गया है, आप हमारे लिए राेजगार की काेई व्यवस्था करा दीजिए। इस पर मंत्री दत्तीगांव ने कहा राेजगार मेरी जेब में ताे नहीं है, आप अधिकारियाें काे आवेदन दे दीजिए। इतना कहकर मंत्री गाड़ी में बैठकर चले गए।

दाेपहर 1.30 बजे राशन कार्ड लेकर पहुंची थी दीनदयालपुरम की महिला
यह घटनाक्रम बुधवार दाेपहर 1.30 बजे भारतीय खेल प्राधिकरण परिसर में हुआ। शहर के दीनदयालयपुरम की महिला अनुराधा ठाकुर एक युवती नीतिका यादव के साथ राशन नहीं मिलने पर राशन कार्ड लेकर यहां पहुंची थी। महिला ने मंत्री दत्तीगांव से कहा कुछ महिलाएं खाना बनाने जा रही हैं ताे कुछ बर्तन मांझने जा रही हैं, मैं भी वही काम कर ही हूं।

जवाब में मंत्री ने कहा- धार की जितनी आबादी है, उनका जीवन चल ही रहा है ना। इस पर महिला ने कहा- कभी न कभी ताे महिलाओं काे इन कामाें से छुटकारा मिलना चाहिए, मंत्री ने कहा- हम लाेगाें ने ताे यह रास्ता नहीं बताया है। महिला के साथ पहुंची युवती नीतिका यादव ने मंत्री काे मुख्यमंत्री स्वराेजगार याेजना का हवाला भी दिया। मंत्री ने आवेदन देने की बात कही।

गरीबाें के लिए कार्यक्रम, लेकिन उन्हें नहीं मिलने दिया मंत्री से
कार्यक्रम समाप्त हाेने के बाद मंत्री जैसे ही बाहर की तरफ रवाना हाेने लगे। महिला ने मंत्री से बात करने की काेशिश की। मगर यहां सिटी मजिस्ट्रेट विशाखा देशमुख व सीएसपी अंकिता सुलिया ने महिला काे मंत्री के पास जाने से राेक दिया। इधर, दीनदयालपुरम निवासी नीतिका यादव राशन की समस्या लेकर कार्यक्रम में पहुंची थी। युवती ने मंच तक पहुंचकर मंत्री से बात करने की काेशिश की, मगर विधायक नीना वर्मा व अन्य भाजपा नेताओं ने उनका राशन कार्ड लेकर खाद्य अधिकारियाें दे दिया। नीतिका का कहना है 2006 में राशन कार्ड बना मगर राशन अब तक नहीं मिला। भाई प्रतीक यादव राशन काे नगर पालिका ने सामान्य वर्ग का बताकर कार्ड ही अमान्य कर दिया।

250 हितग्राहियाें के बीच सिर्फ चार पंखे, गर्मी से हलाकान हाेते रहे लाेग
खाद्य विभाग से मिले आंकड़ाें के मुताबिक प्राधिकरण हाॅल में हुए कार्यक्रम में लगभग 250 हितग्राही शामिल हुए थे। इतने लाेगों के बीच महज चार पंखे वाे भी दाेनों तरफ। ऐसे में पात्रता पर्ची लेने घंटाें पहले अाकर बैठे लाेग गर्मी से परेशान हाेते रहे। काेई राशन कार्ड काेई पैम्पलेट ताे काेई रुमाल से हवा करता नजर अाया। खाद्य अधिकारी एसएन मिश्रा ने बताया बुधवार काे जिला मुख्यालय सहित जिले की 761 ग्राम पंचायत, 33 नगरीय क्षेत्र में कार्यक्रम हुआ। जिसमें 12 हजार पर्चियों का वितरण किया गया। याेजना से 16 लाख 91 हजार हितग्राही पहले से जुड़े हैं। अब 86 हजार नए सदस्य मिलाकर कुल संख्या 17 लाख 77 हजार हाे गई है। विधायक नीना वर्मा, भाजपा जिलाध्यक्ष राजीव यादव, जिला पंचायत अध्यक्ष मालती पटेल, कलेक्टर आलाेक कुमारसिंह, एसपी आदित्यप्रतापसिंह माैजूद थे।

पार्षदाें काे कार्यक्रम में आमंत्रित नहीं किया : जिला प्रशासन द्वारा पार्षदों काे कार्यक्रम में आमंत्रित नहीं किया गया। इस पर आपत्ति लेते हुए भाजपा पार्षद व नगर मंडल अध्यक्ष विपिन राठाैर ने बताया शहर में इतना बड़ा आयाेजन था, लेकिन जिला प्रशासन ने हमें बुलाया ही नहीं। जिला प्रशासन द्वारा जनप्रतिनिधियाें काे नहीं बुलाना गलत है। संगठन स्तर पर भी अवगत कराया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि वालों से अनुरोध है कि आज बाहरी गतिविधियों को स्थगित करके घर पर ही अपनी वित्तीय योजनाओं संबंधी कार्यों पर ध्यान केंद्रित रखें। आपके कार्य संपन्न होंगे। घर में भी एक खुशनुमा माहौल बना ...

और पढ़ें