खेल:बैडमिंटन में तीन अंतरराष्ट्रीय व 40 राष्ट्रीय खिलाड़ी धार के

धार2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एनएसटी अवॉर्ड समारोह में धार लिटिल शॅटलर वेलफेयर सोसायटी काे श्रेष्ठ संस्थान का अवाॅर्ड

शहर की लिटिल शॅटलर वेलफेयर सोसायटी से बैडमिंटन में तीन अंतरराष्ट्रीय और 40 राष्ट्रीय खिलाड़ी तैयार हुए हैं। जाे शहर सहित देश का नाम राेशन कर रहे है। इस उपलब्धि के लिए भाेपाल में हुए 26 वें एनएसटी अवार्ड समाराेह में संस्थान काे श्रेष्ठ अवार्ड से सम्मानित किया।

धार के खिलाड़ियाें ने बड़े-बड़े शहराें के शॅटलराें के बीच अपनी जगह बनाना शुरू करने से शरदचंद्र निगम ने अपने नेतृत्व में नन्हे नन्हे शटलरों की प्रतिभा तराशकर उन्हें राष्ट्रीय स्तर का खिलाड़ी बनाने के उद्देश्य से 2009 में सोसायटी का गठन किया था। इसका मुख्य उद्देश्य शहर के प्रतिभाशाली शटलरों को निःशुल्क प्रशिक्षण एवं खेल सामग्री प्रदान कर उनके खेल के स्तर को निखारना था।

2009 से सोसायटी ने खेल और युवा कल्याण विभाग के सहयोग से राजा देवीसिंह बैडमिंटन हाल में उभरती प्रतिभाओं को सुबह 5 से 10 तथा शाम 4 से 7 बजे तक सुधीर वर्मा नियमित निःशुल्क प्रशिक्षण दे रहे है। वर्मा ने बताया वर्ष 2010 में मप्र राज्य बैडमिंटन अकादमी ग्वालियर के लिए राष्ट्रीय मुख्य प्रशिक्षक पुल्लेला गोपीचंद ने इसी संस्था के 18 शटलरों का चयन किया था।

शटलरों ने धीरे-धीरे राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिभा का प्रदर्शन किया। संस्था में पिथोरागढ़ उत्तराखंड, नीमच, इंदाैर, रीवा, भोपाल आदि जगह के शटलरों ने प्रशिक्षण प्राप्त कर राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर श्रैष्ठ प्रदर्शन किया हैं।

बैडमिंटन जैसे महंगे खेल की सुविधाओं के अभाव के बावजूद 11 वर्षों में सोसायटी के प्रमुख रूप से प्रतिभाशाली शॅटलर्स प्रियांशु राजावत, अमित राठाैर, यश रायकवार, कबीर वर्मा, संजय ठाकुर, प्रमेश पाटीदार, अमन रायकवार आदि ने देश एवं दुनिया को दिखा दिया कि प्रतिभाएं सुविधाओं की मोहताज नहीं होती।

बैडमिंटन की नर्सरी कहलाती है धार

छाेटे से शहर से अंतराराष्ट्रीय व राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी निकलने से आज धार को राष्ट्रीय पटल पर बैडमिंटन की नर्सरी के नाम से पहचाना जाता है। संस्था की उपलब्धियों के लिए मानस भवन भोपाल में आयोजित 26 वां एनएसटी अवार्ड समारोह में पूर्व विधानसभा अध्यक्ष रामेश्वर शर्मा ने संस्था अध्यक्ष शरदचंद्र निगम को शाॅल, श्रीफल एवं श्रेष्ठ संस्थान अवार्ड देकर सम्मानित किया। प्रशिक्षक वर्मा भी शामिल हुए।

खबरें और भी हैं...