पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बदला मौसम:आधे घंटे में 11 मिमी बारिश, ओले भी गिरे, खेतों में काट कर रखी फसल को नुकसान

झाबुआ, कल्याणपुरा8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कल्याणपुरा में 15 मिनट ओलों के साथ बारिश, झाबुआ में बारिश के बाद धूप निकली

शहर में गुरुवार दोपहर पौने 3 बजे से आधा घंटे के लिए बारिश हुई ओर ओले गिरे। मक्का के दानों से भी बड़े ओले गिरे। कल्याणपुरा में 15 मिनट तक ओलावृष्टि हुई। झाबुआ में आधा घंटे में 11 मिलीमीटर बरसात रिकार्ड की गई।

मौसम विभाग ने शुक्रवार को 2 मिमी बारिश की संभावना जताई थी। उत्तर-पश्चिम मध्यप्रदेश और पश्चिमी राजस्थान में तूफान का सिस्टम बनने से जिले में बारिश हुई। कई जगह गेहूं की फसल को नुकसान की खबर है। खासतौर से पक चुके गेहूं को नुकसान हुआ। शासन ने नुकसान का आंकलन करने के निर्देश जारी कर दिए हैं।

इसलिए हुई बारिश

मौसम विज्ञानी डॉ. आरके त्रिपाठी के अनुसार दक्षिण से हवाएं आने और उत्तर-पूर्वी हवाओं का पहले से असर होने से ये टकराईं और दो जगह साइक्लोन का सिस्टम बना। इसके चलते प्रदेश में कई जगह बारिश हो रही है।

आगे क्या : मौसम विभाग के पूर्वानुमान में शुक्रवार को 2 मिमी बारिश की संभावना थी। ऐसे में अभी बादल छाए रहने की संभावना है। थोड़ी बारिश हो भी सकती है। दिन के तापमान में मामूली गिरावट दर्ज की जा सकती है।

नुकसान क्या : आमतौर पर गेहूं की कटाई मार्च के आखिर या अप्रैल में होती है। कुछ किसानों ने बोवनी जल्दी कर दी थी। उनकी फसल या तो पक चुकी है या कट भी गई। पकी और कटी फसल भीगने पर नुकसान संभव है। ज्यादा भीगा तो दाने खराब हो जाएंगे। कम भीगने पर अगर शुक्रवार से धूप में रखकर सुखा लिया तो दानों का रंग फीका होने के अलावा नुकसान कम होगा। गेहूं बालियों से कवर होता है और बालियां पूरी तरह नहीं भीगी तो दाने बच सकते हैं।

पहले मावठे ने नुकसान किया, अब उपज की उम्मीद ही खत्म

गांव सेमलिया बड़ा के किसान नंदा पिता बल्लू बारिया ने बुधवार को ही अपनी 5 बीघा जमीन से गेहूं कटवाए थे। काटी गई फसल खेत में ही पड़ी थी। तैयारी थी कि एक-दो दिन में थ्रेशर लगाकर गेहूं निकाल लेंगे। लेकिन अचानक बारिश से कटी हुई फसल भीग गई। नंदा ने बताया, 80 किलो बीज बोया था। नाले के किनारे जमीन थी, इसलिए सिंचाई भी पर्याप्त की।

लेकिन कुछ दिन पहले मावठे ने नुकसान किया। 20 क्विंटल की उम्मीद थी, लेकिन 7-8 क्विंटल ही दाने आए। अब ये भी भीग गए तो पूरा नुकसान हो सकता है। सेमलिया बड़ा के ही किसान मलिया मनजी ने 2 बीघा में गेहूं उगाया था। उनकी फसल खेत में खड़ी थी। मलिया ने बताया, गेहूं के दाने ही बराबर नहीं आए थे। अब बारिश और ओलों के कारण और ज्यादा नुकसान की संभावना है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने व्यक्तिगत रिश्तों को मजबूत करने को ज्यादा महत्व देंगे। साथ ही, अपने व्यक्तित्व और व्यवहार में कुछ परिवर्तन लाने के लिए समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ना और सेवा कार्य करना बहुत ही उचित निर्ण...

    और पढ़ें